रिविलगंज के बीडीसी गुड्डू सिंह की जा सकती है सदस्यता, चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस

छपरा

छपरा। सारण जिले के रिविलगंज प्रखंड के प्रखंड प्रमुख के दो वर्षों का कार्यकाल पूरा होने के बाद अविश्वास प्रस्ताव पारित करने की ओर लगी है। अविश्वास प्रस्ताव का अगुवाई कर रहे प्रमुख के दावेदार बीडीसी सदस्य तेज नारायण सिंह उर्फ गुड्डू सिंह की मुश्किलें अब बढ़ गई है। तेज नारायण सिंह उर्फ गुड्डू सिंह की सदस्यता भी खतरे में आ गई है।

दरअसल राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा एक नोटिस जारी किया गया है। बीडीसी गुड्डू सिंह पर प्रखंड के औली निवासी सूरज महतो के द्वारा दो जगह पर वोटर लिस्ट में नाम होने का आरोप लगाते हुए राज्य निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिस पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने नोटिस जारी किया है।

जानकारी के अनुसार गुड्डू सिंह का नाम रिविलगंज प्रखंड के दक्षिणवारी चक्की जहां से वह बीडीसी सदस्य हैं वहां के वोटर लिस्ट में मौजूद तो है ही साथ ही रिविलगंज नगर पंचायत के वार्ड संख्या 20 के वोटर लिस्ट में भी उनका नाम शामिल है। ऐसे में अब राज्य निर्वाचन आयोग ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए नोटिस जारी किया है। अब उनकी सदस्यता पर खतरा मंडराने लगा है।

जारी नोटिस में आदेश दिया गया है कि 30 जनवरी को अपराह्न साढे तीन बजे स्वयं या अपने अधिवक्ता के माध्यम से उपस्थित होकर अपना पक्ष रखें अनुपस्थिति के स्थिति में उपलब्ध कागजातों और अभिलेखों के आधार पर अंतिम निर्णय की चेतावनी भी दी गई है। फिलहाल सबकी निगाहें राज्य निर्वाचन आयोग के फैसले पर टिकी हुई है।

हाल ही में छपरा नगर निगम के मेयर राखी गुप्ता के तीन संतान होने के मामले में राज निर्वाचन आयोग ने फैसला सुनाते हुए मेयर पद से बर्खास्त कर दिया था। आप देखने वाली बात होगी कि बीडीसी गुड्डू सिंह की सदस्यता जाती है या बचाने में सफल हो पाएंगे। इधर प्रखंड प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित करने के लिए गुड्डू सिंह बहुमत साबित करने में जुटे हुए थे. इसी बीच राज्य निर्वाचन आयोग ने यह नोटिस जारी कर दिया है।