Why do trains run faster at night than during the day?

रेलगाड़ियाँ दिन की तुलना में रात में तेज़ क्यों चलती हैं?

करियर – शिक्षा देश

आपने शायद देखा होगा कि दिन की तुलना में रात में ट्रेनें बहुत तेज़ होती हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है?

भारतीय रेलवे नेटवर्क दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है। यह लगभग 68,600 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। इसकी मदद से प्रतिदिन करोड़ों लोग यात्रा करते हैं। जब सफर लंबा होता है तो लोगों को रात अच्छी लगती है क्योंकि रात में ट्रेन की स्पीड काफी अच्छी होती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है? अगर नहीं तो आइए आज जानते हैं.

रात में रेलगाड़ियाँ तेज़ क्यों चलती हैं?
जैसा कि आपने देखा होगा, रात में रेलगाड़ियाँ बहुत तेज़ चलती हैं, लेकिन दिन की तुलना में दिन में धीमी गति से चलती हैं। दरअसल, रात में ट्रेनों के तेज़ चलने के कई कारण हैं। पहला कारण यह है कि रात के समय सड़कें खाली रहती हैं। दरअसल, रात में मार्गों पर आवाजाही का दायरा दिन की तुलना में नगण्य होता है। रात के समय कोई भी व्यक्ति या जानवर रास्ते पर नहीं चलता है।इसके अलावा रात के समय पटरियों पर कोई रखरखाव का काम भी नहीं किया जाता है। इससे रात में भी ट्रेनें तेज गति से चल सकती हैं.

अंधेरे में मिलता है फायदा
रात में अंधेरे का फायदा ट्रेन ड्राइवर को भी होता है। दरअसल, ट्रेन ड्राइवर अंधेरे में दूर से ही सिग्नल देख सकता है। इससे ट्रेन चालक या ट्रेन चालक को दूर से ही पता चल जाता है कि ट्रेन को रोकने की जरूरत है या नहीं। उसी के अनुरूप वे ट्रेन की गति को भी नियंत्रित करते हैं। इस वजह से रात में ट्रेन की गति दिन की तुलना में काफी अधिक होती है और कई बार ट्रेन को समय पर पहुंचने में भी मदद मिलती है।