छपरा में होली खूब हुआ हुड़दंग: कहीं मुर्गा काटने पर मारा चाकू तो कहीं मस्जिद में फोड़ा पटाखा

छपरा

छपरा। सारण में रंगो के त्योहार होली को शांतिपूर्ण संपन्न कराने का पुलिस का दावा फेल रहा है। जिले में अलग-अलग जगहों पर चाकूबाजी और मारपीट घटना में एक दर्जन से अधिक लोग जख्मी हो गये। वहीं कहीं पर आपसी सौहार्द को बिगड़ृाने के लिए असामाजिक तत्वों के द्वारा मस्जिद के पास पटाखा फोर दिया गया तो कहीं पर घर पर लगे महापुरूष के झंडा को फाड़ दिया गया।

पहली घटना सारण जिले के मढौरा थाना क्षेत्र की है। जहां मिर्जापुर बाबु के ओसइयां मस्जिद में नमाज के समय कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा आपसी सौहार्द बिगाड़ने को लेकर पटाखा फोड़ दिया गया । जिसके बाद भगदड़ मच गया। घटना की सूचना मिलते मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी। जांच में सीसीटीवी कैमरा से पता चला कि तीन असामाजिक तत्वों के द्वारा नमाज के समय पटाखा फोड़ा गया । सीसीटीवी के आधार पर पहचान कर पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने शहजाद हुसैन उर्फ मिठाईलाल, सुजीत कुमार और धानु कुमार को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के दौरान पुलिस के समक्ष तीनों ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

वहीं गड़खा थाना क्षेत्र के चंडाल चौक के पास एक युवक को चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। घायल युवक की पहचान ललत राम के पुत्र सोनू राम के रूप में हुई है। गांव के मदन प्रसाद के पुत्र मोनू कुमार, ननक मांझी के पुत्र अर्जुन मांझी और कपूर मांझी के पुत्र राधेश्याम महतो तथा 2 अज्ञात लोगों ने घटना को अंजाम दिया है। पुलिस इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई कर रही है।

तीसरी घटना सारण जिले के मांझी में हुई है। जहां मुर्गा काटने के विवाद में चाकूबाजी हुई है। इस घटना में एक युवक को चाकू मारकर जख्मी कर दिया गया है। घायल की पहचान बिगहा गांव निवासी भोला राम के पुत्र रविंद्र कुमार राम के रूप में हुई है। इस संबंध में पांच लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

चौथी घटना सारण जिले के एकमा में हुई है। जहां टेकाम गांव स्थित सुनरदेव राम के घर पर एवं उक्त मुहल्ले में लगे किसी महापुरूष के झंडा को असामाजिक तत्वों के द्वारा उतार कर फाड़ दिया गया तथा जला दिया गया। इस संबंध में एकमा थाने की पुलिस कांड दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई कर रही है।