Neha did not want Shabana Raza to become Manoj Bajpayee's second wife.

शबाना रजा से नेहा नहीं बनना चाहती थीं मनोज वाजपेयी की दूसरी वाईफ

मनोरंजन

फ़िल्मी डेस्क। फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने से पहले एक्ट्रेस के जीवन में दो बड़े बदलाव हुए. पहला साल 2006 में उन्होंने अपने फिल्म ‘फिज़ा’ के अपने को-स्टार मनोज बाजपेयी से शादी की और उन्होंने अपना नाम नेहा से वापस शबाना रजा रख लिया. एक्ट्रेस ने खुद खुलासा किया था कि वह अपने नाम को बदलना नहीं चाहती थी.शबाना रजा, जिन्हें प्रोफेशनल तौर पर नेहा के नाम से जाना जाता है.

नेहा मनोज बाजपेयी की पत्नी हैं और फिलहाल एक्टिंग से दूर अपनी मैरिड लाइफ में बिजी हैं. 1998 में आई रोमांटिक फिल्म ‘करीब’ से उन्होंने अपने एक्टिंग करियर की शानदार शुरुआत की थी. इस फिल्म में वह बॉबी देओल के साथ नजर आई थीं. पहली फिल्म में उनका काम बेहद उम्दा था, लेकिन इसके बाद भी उन्हें दूसरी एक्ट्रेसेस की तरह लाइमलाइट हासिल नहीं हो सकी. 1998 से साल 2006 तक उन्होंने सिर्फ 9 फिल्में की और साल 2009 में एक्टिंग की दुनिया से दूसरी बना ली.

बॉलीवुड में ऐसे कई कलाकार हैं, जिन्होंने फिल्मों में आने से पहले अपने रियल नाम को बदला और फेम किसी दूसरे नाम से पाया. इन्हीं में से एक नेहा भी हैं. फिल्मों में आई तो शबाना रजा यानी नेहा हो गई. हालांकि, साल 2006 में आई फिल्म ‘फिजा’ में अपने को-स्टार मनोज बाजपेयी से शादी करने के बाद उन्होंने वापस अपना नाम शबाना रजा रख लियाशबाना को उनकी पहली फिल्म ‘करीब’ के लिए स्क्रीन नाम ‘नेहा’ दिया गया था.

ताज्जुब की बात ये है कि शादी से ठीक पहले आई उनकी फिल्म ‘आत्मा’ में भी उनका नाम ‘नेहा’ ही थी. 2008 में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया था कि आखिरी क्यों वो शबाना से नेहा और फिर शबाना बनीं.उन्होंने कहा था, ‘मैं कभी नेहा नहीं थी. मैं हमेशा शबाना थी. मुझे भी अपना नाम बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा. मैं इसके लिए सहमत नहीं थी, क्योंकि मुझे गर्व था कि मेरे माता-पिता ने मुझे ये नाम दिया है. नाम बदलने की कोई जरूरत नहीं थी, लेकिन किसी ने मेरी बात नहीं सुनी.एक्ट्रेस ने मीडिया को बताया था कि मैंने इंडस्ट्री में एंट्री की तो हर चीज को लेकर भयभीत थी, लेकिन अब मैं हर चीज को बेहतर समझती हूं. जब शबाना से पूछा गया कि ‘करीब’ के तुरंत बाद वह अपने रियल नाम में वापस क्यों नहीं आईं? तो इसके जवाब में उन्होंने कहा कि यह दुखद बात है.

जब मैं अपने रियल नाम पर वापस जाना चाहता था तो कोई भी मेरी बात नहीं सुनता था.शबाना ने खुलासा किया कि वह कभी भी फिल्मों में काम नहीं करना चाहती थीं और जब उन्हें अपनी पहली फिल्म का ऑफर मिला तो उन्होंने भी मना कर दिया. एक्ट्रेस ने बताया था कि मैं दिल्ली में पढ़ रही थी और वहां खुश थी. लेकिन, मेकर्स ने मुझे देखा और फिल्म के लिए अप्रोच किया. मैंने साफ मना किया तो मेरे माता-पिता से बात की और उनकी मंजूरी ले ली. मैंने कुछ दिनों तक काम किया तो मुझे ऐसा लगा जैसे एक्टिंग मेरा सपना था.आपको बता दें कि शबाना 2009 के बाद से फिल्मों में नजर नहीं आई हैं आज वह 1 बेटी की मां हैं।