कलयुगी मां!  नाबालिग बेटी को दो बार वेश्यालय में बेचा.

क्राइम देश

कोलकाता पुलिस ने शहर की एक नाबालिग लड़की की रहस्यमय मौत की जांच शुरू की है, जिसे उसकी मां ने पहले बिहार और फिर पश्चिम बंगाल में दो अलग-अलग वेश्यालयों में बेच दिया था। एक गैर सरकारी संस्था (NGO) के कर्मचारियों ने पीड़िता को छुड़ाकर उसके गंभीर  हालत के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां गुरुवार को उसकी मौत हो गई।

NGO की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। घटनाक्रम से जांचकर्ताओं को पता चला कि नाबालिग पीड़िता को उसकी मां ने दो अलग-अलग वेश्यालयों में बेच दिया था।

पुलिस के अनुसार, पीड़िता को 2021 में उसकी मां ने बिहार के मुजफ्फरपुर में एक वेश्यालय में बेचा था। एनजीओ को जानकारी मिलने पर कोलकाता के नारकेलडांगा थाने में शिकायत दर्ज कराई गई. इसके बाद पुलिस मुजफ्फरपुर गई और लड़की को छुड़ाया गया।
जब पुलिस ने पीड़िता को उसकी मां को सौंप दिया, तो उसने माफी मांगी। बाद में पता चला कि उसका पश्चाताप नौटंकी नहीं था, बल्कि कुछ और था। 2022 में, महिला ने एक एजेंट के माध्यम से उत्तरी कोलकाता के सोनागाछी वेश्यालय में अपनी बेटी को फिर से बेच दी। यह एशिया का सबसे बड़ा रेड-लाइट क्षेत्र है।

एनजीओ के सदस्यों ने पुलिस को बताया कि इस बार लड़की वेश्यालय की मालकिन और अन्य ग्राहकों द्वारा यौन शोषण का शिकार हुई। जब पीड़िता गंभीर बीमार हो गई, वेश्यालय की मालकिन ने उसे छोड़ दिया और लड़की को उसकी मां के घर ले गई।
एनजीओ कार्यकर्ताओं ने फिर वहां से उसे ले जाकर अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों के सभी प्रयास, हालांकि, असफल रहे और गुरुवार को इलाज के दौरान लड़की की मौत हो गई।