डाककर्मी से असिस्टेंट प्रोफेसर बने डॉ श्याम शरण को दी गयी विदाई

छपरा

छपरा। छपरा के प्रधान डाक घर में पदस्थापित डॉ श्याम शरण के विश्वविद्यालय सेवा में जाकर असिस्टेंट प्रोफेसर का पदभार ग्रहण के उपरांत डाक विभाग के डाककर्मियों द्वारा अम्बेडकर भवन, छपरा के सभागार में सम्मान सह विदाई समारोह का आयोजन किया गया. सम्मान स्वरुप डाककर्मियों द्वारा उन्हें अंग वस्त्र, पुष्पगुच्छ एवं प्रतीक चिन्ह प्रदान किया गया. इस अवसर पर डॉ. कंचन ने अपने सम्बोधन में कहा कि डॉ श्याम शरण को यह सफलता इनकी कड़ी मेहनत एवं विरासत को पाने की लालसा के बल पर मिली है.

दीपक कुमार ने कहा कि डॉ शरण अपने कुशल व्यवहार एवं कार्य संस्कृति के कारण हमेशा हम लोगों के दिलो में बसे रहेंगे. डाक कर्मचारी नेता राकेश कुमार ने कहा कि – डॉ शरण की यह सफलता आम कर्मचारियों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा का कार्य करेगा.इस सभा को सम्बोधित करने वालों में सुशील कुमार चौधरी, तारकेश्वर साह, राकेश प्रसाद, सुधांशु कुमार, तारकेश्वर नाथ आशीष भारती आदि शामिल थे. विदित हो कि डॉ शरण डाक विभाग में लगभग 26 वर्षों की सेवा में रहते हुए तीन विषयों हिन्दी, इतिहास एवं जनसंचार तथा पत्रकारिता से एम ए के साथ – साथ अनुवाद में पीजी डिप्लोमा किया .

हिन्दी विषय से एम फिल एवं पी एच डी भी किया .हिन्दी एवं जनसंचार तथा पत्रकारिता से युजीसी नेट की परीक्षा भी उत्तीर्ण किया . जनसंचार माध्यम और हिन्दी पुस्तक के साथ चार पुस्तकों के लेखक भी है. इस दौरान कई प्रतिष्ठित सम्मानों से सम्मानित भी हुआ.डॉ शरण ने अपने सम्बोधन में कहा कि – इस सफलता को प्राप्त करने

में भारतीय डाक विभाग के साथ इस विभाग के कर्मियों की मदद की अहम भूमिका है. इस अवसर पर डिप्टी पोस्टमास्टर सुशील चौधरी, तारकेश्वर साह, डॉ. कंचन, सुधांशु कुमार, राकेश प्रसाद, दीपक कुमार, रामसुरेश मांझी, आशीष भारती. शैलेन्द्र कुमार, तारकेश्वर नाथ, दुलार चंद बैठा, मुन्ना कुमार आदि उपस्थित थे.