BPSC Success Story: Bihar's daughter created history by becoming the first Muslim woman DSP of the state.

BPSC Success Story: बिहार की बेटी ने राज्य की पहली मुस्लिम महिला डीएसपी बनकर रचा इतिहास

करियर – शिक्षा बिहार सफलता की कहानी

BPSC Success Story: बिहार के गोपालगंज जिले के रतन चौक, हथुआ की रहने वाली रजिया सुल्तान ने इतिहास रचकर पूरे जिले का नाम रोशन किया है. रजिया बीएससी परीक्षा के माध्यम से डीएसपी बनने वाली पहली मुस्लिम महिला है

लंबे इंतजार के बाद जारी हुई बीपीएससी परीक्षा में यह सफलता मिली है. रजिया के पिता एमडी असलम अंसारी, बोकारो स्टील प्लांट में काम करते हैं। रजिया की सफलता से बिहार के लोग खुश हैं.

प्रथम प्रयास में सफलता
आपकी जानकारी के लिए हम आपको बताना चाहेंगे कि रजिया ने यह कामयाबी बीएससी परीक्षा में अपने पहले ही प्रयास में यह सफलता हासिल की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रजिया 21 जून 2021 को बिहार राज्य बिजली बोर्ड में सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत थीं.

रिपोर्ट के मुताबिक, जारी बीएससी रिजल्ट 2021 के मुताबिक, रजिया सुल्तान समेत कुल 40 उम्मीदवारों का डीएसपी पद के लिए चयन हुआ था. जिसमें एक नाम रजिया सुल्तान का भी शामिल था। इस सूची में केवल चार उम्मीदवार मुस्लिम समुदाय से हैं।

इंजीनियर से डीएसपी तक का सफर
मीडिया से बातचीत करते हुए रजिया सुल्तान ने अपनी सफलता की कहानी साझा की और अपनी बीएससी की डिग्री में सफलता की यात्रा के बारे में बात की। रजिया मूल रूप से बिहार के गोपालगंज जिले के हथुआ की रहने वाली हैं, लेकिन उन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा झारखंड के बोकारो से पूरी की।

रजिया के परिवार में कुल 6 बहनें और एक भाई है, जिनमें वह सबसे छोटी है। आपकी जानकारी के लिए हम आपको बताना चाहेंगे कि उनकी कुल पांच बहनों की शादी हो चुकी है और उनका भाई एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद झाँसी में नौकरी करके पैसा कमा रहा है।