सारण में वार्ड महासंघ ने किया विरोध प्रदर्शन, 13 सूत्री मांग को लेकर 3 अक्टूबर को जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन

छपरा

छपरा । बिहार राज्य वार्ड सदस्य महासंघ के आवाह्न पर प्रखंड गरखा सूर्य मंदिर के प्रांगण में जिला अध्यक्ष सह प्रदेश महासचिव चन्दन प्रसाद एवं प्रखंड अध्यक्ष कामेश्वर राय के नेतृत्व में गड़खा के सभी वार्ड सदस्यों की बैठक आहूत बुलाई गई।जिसमें जिला अध्यक्ष सह प्रदेश महासचिव चन्दन प्रसाद ने कहा सरकार द्वारा लगातार वार्ड सदस्यों के अधिकारों में कटौती कि जा रही है एवं पंचायतो में वार्ड सदस्यों के अधिकारों के साथ साथ जनता के भी अधिकारो का हनन किया जा रहा जिसके खिलाफ अपने विभिन्न मांगों को लेकर 9 सितंबर से 3 अक्टूबर 2023 तक लगातार 25 दिनो तक बिहार प्रदेश के सभी वार्ड सदस्य गण सरकार के किसी भी सरकारी कार्यो एवं बैठको में कोई भी सहयोग नहीं करेंगे।

 

साथ ही इस कड़ी में शनिवार को गड़खा के अनुसार वार्ड सदस्य महासंघ द्वारा आक्रोश मार्च/ धरना-प्रदर्शन की गई। आगे 03 अक्टूबर 2023 को बिहार के सभी जिला मुख्यालयों पर राज्य व्यापी धरना-प्रदर्शन के साथ सम्पन्न होगा। वहीं प्रखंड कामेश्वर राय ने कहा कि पंचायती राज विभाग का संविधान संकल्प समय-समय पर निर्गत पत्रों का प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी एवं ग्राम पंचायत सचिव द्वारा विगत दो वर्षों से अनुपालन नहीं किए जाने के कारण वार्ड सदस्यों का हकमारी हो रहा है जिसकी मुख्यमंत्री बिहार सरकार द्वारा सभी पंचायतों की उच्च स्तरीय जांच करवाई जाए। बैठक के उपरांत सभी वार्ड सदस्यों ने गरखा चौक पर जा कर शहीद इन्द्रदेव चौधरी को माल्यार्पण कर महाआन्दोलन का शंखनाद करते हुए आक्रोश मार्च निकालते हुए बिहार सरकार के नाम प्रखंड विकास पदाधिकारी गड़खा को महासंघ द्वारा 13 सूत्री मांग पत्र को सौंपा गया।

इस मौके पर जिला संयोजक अरुण कुमार सिंह, प्रखंड उपाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह, प्रखंड सचिव शहमद अंसारी,प्रखंड उपाध्यक्ष बड़ेलाल ठाकुर, प्रवक्ता छेदी प्रसाद यादव, मीडिया प्रभारी आनंदी कुमार राय,नन्दलाल पंडित,अवधकिशोर कुशवाहा, विरेन्द्र सिंह,मोहन राय,गौतम मांझी, कृष्णा राय, ऋषि कुमार, मुन्ना राय, अर्जून तिवारी, मुन्ना ठाकुर, रंजीत राम,रफी अहमद, जितेन्द्र सिंह,रामसेवक महतो, रमेश कुमार सिंह, सुरेंद्र प्रसाद गुप्ता,पवन कुमार सिंह, जितेन्द्र प्रसाद,मो हबीबुल्ला, अमरनाथ राय,मो मनानमिया, मुन्ना सिंह, रोहित पासवान आदि मौजूद थे।