हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर खराब स्थिति, ड्रोन से भी टियर गैस के गोले दागे गए, मची भगदड़

हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर खराब स्थिति, ड्रोन से भी टियर गैस के गोले दागे गए, मची भगदड़

देश

किसान आंदोलन के दौरान हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर हंगामा हुआ है। हरियाणा पुलिस ने टियर गैस गोले छोड़े। इस दौरान मौके पर अफरातफरी मच गई  है। किसान दोपहर 12 बजे के करीब बॉर्डर से आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने लगातार आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। अब स्थिति जंग जैसी हो गई है और बेकाबू होने लगी है।

जानकारी के अनुसार, पुलिस ने शंभू बॉर्डर पहुंचे युवाओं ने बैरिकैड्स को मौके से उठाया। पुलिस ने बॉर्डर पर ड्रोन से निगरानी रखी। वहीं, ड्रोन से भी साढ़े 12 के करीब टियर गैस के गोले छोड़े गए हैं। शंभू बॉर्डर पर हरियाणा पुलिस ने किसानों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। हरियाणा पुलिस ने कहा, “जब तक किसान नेता नहीं आ जाते, किसी को बढ़ने नहीं दिया जाएगा।” अगर किसी को डीसी या एसपी से बात करनी हो तो इस 9729990500 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

मुंह पर बांधे रुमाल

मौके पर पहुंचे नौजवान और अन्य लोग मुंह पर रुमाल बांधे हुए हैं और आंसू गैस के असर से बचने के लिए यह इंतजाम प्रदर्शनकारियों की तरफ से किए गए हैं. साथ ही मौके पर पानी के टैंकर भी रखे गए हैं, ताकि आंसू गैस का असर कम किया जा सके. पुलिस ने करीब 15-20 मिनट तक टियर गैस के गोले छोड़े हैं और इस कारण किसान मौके से करीब 100 मीटर पीछे चले गए हैं.

हालांकि, आगे जाने की कोशिशें हो रही हैं. लेकिन जैसे ही कोई भी आगे बॉर्डर की तरफ बढ़ता है तो पुलिस गोले छोड़ती है. किसान जैसे ही टियर गैस के गोले आसपास गिरते हैं तो उस पर मिट्टी भी डाल रहे हैं, ताकि उसका असर कम किया जा सके. इधर, अंबाला रैंज के आईजी सिबास कविराज का कहना है कि अगर किसान ट्रेक्टर लेकर आगे जाएंगे तो, नहीं जाने देंगे. लेकिन अगर वे बस या ट्रेन से जाएगे तो उनका स्वागत है.

इससे पहले, अंबाला के शंभू बॉर्डर पर किसान पहुंचे थे. यहां पर सीमा से पहले ट्रैक्टर ट्रालियों का काफिला रुक गया था. साथ ही पुलिस ने कई किसानों को डिटेन किया था. फिलहाल, शंभू बॉर्डर पर काफी गहमागहमी है. यहां पर लगातार किसानों की संख्या भी बढ़ रही है.