छपरा में 30 वर्षों के बाद कार्यालय परिचारी को उच्चतर वर्ग में मिला प्रोमोशन

छपरा

छपरा। सारण में काफी लंबे समय के बाद कर्मचारियों का प्रोमोशन किया गया है। सारण के जिलाधिकारी अमन समीर ने बताया कि  सारण समाहरणालय अन्तर्गत विभिन्न कार्यालयों में पदस्थापित कार्यालय परिचारियों को उच्चत्तर पद निम्नवर्गीय लिपिक के विहित वेतनमान (वेतन स्तर-02) सहित, अस्थायी स्थानापन्न कार्यकारी प्रभार दिया गया है। विदित हो कि इसके पूर्व सन 1991 में लगभग 30 वर्षों के पूर्व प्रोन्नति दी गई थी। वरियता क्रमांक मूल कोटी 47- आत्मा सहाय, 50- ललितेश्वर कुमार,64- जय प्रकाश  कुमार, 85- पवन कुमार साह, 88- रवि कुमार, 89- अभिनेष कुमार, 90- छोटू कुमार पाण्डेय एवं 95- सूर्य प्रकाश राय शामिल है।

जिलाधिकारी महोदय के द्वारा बताया गया कि यह आदेश सामान्य प्रशासन विभाग, बिहार, पटना से प्राप्त अधिसूचना में निहित शर्तों के अधीन है। उच्चत्तर पद के साथ विहित वेतनमान का आर्थिक लाभ निम्नवर्गीय लिपिक के पद पर उनके पदस्थापन कार्यालय में योगदान की तिथि से अनुमान्य होगा।

निर्धारण के अनुसार अकार्यकारी प्रभार की यह व्यवस्था माननीय सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष विचाराधीन सिविल अपील संख्या-4880/2017, बिहार सरकार बनाम अन्य में पारित होने वाले अंतिम आदेश के फलाफल से प्रभावित होने की शर्त पर अस्थायी स्थानापन्न कार्यकारी प्रभार प्रदान की जा रही है।