सारण के रिविलगंज में हीटवेव से 2 की मौत, डायरिया से 5 दर्जन लोग बीमार

छपरा

छपरा । रिविलगंज में लू लगने एवं हार्ट अटैक से दो लोगों की मौत सोमवार को हो गयी। वही अपने दादा के शवयात्रा में शामिल होने रिविलगंज के सेमरिया श्मशान घाट आये बड़ा करींगा छपरा के मृत्यूंजय कुमार अचानक बेहोश होकर गिर गये। तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रिविलगंज में भर्ती कराया गया। जहाँ उनका इलाज चल रहा है। वही डायरिया के करीब पांच दर्जन मरीज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रिविलगंज एवं तीन दर्जन से ज्यादा मरीज अस्थायी स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर गोदना में इलाजरत है। इस संबंध में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी रिविलगंज डॉ राकेश कुमार ने बताया कि डायरिया पेसेंटों का इलाज पुरी तत्परता के साथ चल रहा है। मेडिकल टीम गठित कर डायरिया पेसेंटों की पहचान एवं इलाज किया जा रहा है। हलांकि और दिनों की अपेक्षा सोमवार को डायरिया पेसेंटों की संख्या में कुछ कमी रही। डॉ राकेश कुमार ने कहा कि लू लगने से बचाव के लिए पूरे शरीर को ढक कर रहे, पानी की कमी शरीर में नहीं होने दें, तेज धूप में बाहर ना निकले, साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें एवं शुद्ध, ताजा एवं सुपाच्य भोजन करें। बिमारी की लक्षण दिखाई देते ही अस्पताल पहुंचे।

पहला मरीज की मौत–
जानकारी के अनुसार रामपुर सिरिसिया गाँव के पति रम चौधरी ने 45 वर्षिय पुत्र टूना चौधरी की मौत लू लगने के कारण हो गया। टूना चौधरी टेंपू पर सवार होकर कहीं जा रहे थ। कि अचानक बेहोश होकर गिर गये। आनन आनन- में इलाज के लिए उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रिविलगंज लाया गया। जहाँ चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

दुसरा मरीज की मौत–
वही गोदना मठिया गाँव के त्रिलोकी गिरी के 35 वर्षिय पुत्र राजु गिरी सोमवार की दोपहर बाद अचानक अपने घर पर ही बेहोश होकर गिर गये। परिजनों द्वारा उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रिविलगंज लाया गया। जहाँ चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों के अनुसार उनको पहले से सुगर की बिमारी थी। विदित हो कि रिविलगंज में तीन दिन में डायरिया से तीन मरीजों की मौत पहले हो चुकी है।