छपरा-सिवान रेलखंड के एकमा स्टेशन पर ट्रेन से गिरकर इण्टरमिडिएट की छात्र की मौत

छपरा

छपरा. पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा-सिवान रेलखंड में स्थित एकमा स्टेशन के पूर्वी रेल गुमटी के समीप हंसराजपुर गांव में ट्रेन से गिरकर छपरा शहर के एक कोचिंग संस्थान में पढने जा रहे एक छात्र की मौत हो गई. मृत छात्र दाउदपुर थाना क्षेत्र के शीतलपुर गांव निवासी मनोज कुमार वर्मा का 16 वर्षीय पुत्र आदित्य कुमार वर्मा बताया जाता है. प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रत्येक दिन की तरह आदित्य अपने सहपाठियों के साथ छपरा कोचिंग संस्थान में जाने के लिए एकमा स्टेशन से अप डीएमयू ट्रेन पर सवार हो कर छपरा जा रहा था.

तभी एकमा स्टेशन के पूर्वी रेल गुमटी के समीप हंसराजपुर गांव में ट्रेन से गिर कर आदित्य गंभीर रूप से जख्मी हो गया. आदित्य को ट्रेन से गिरते देख अन्य छात्रों ने तत्काल इसकी सूचना स्टेशन परिसर में छुटे अपने साथियों को दिया. जहां स्थानीय लोगों के साथ पहुचकर उसे इलाज के लिए एकमा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. घटना की ख़बर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. माता राजकुमारी देवी का रो-रो बुरा हाल बना है. पुत्र के असामयिक मौत से आहत माता के आँख से बहता आंसू रुकने का नाम नही ले रहा है. परिजनों के चीखपुकार से सबकी आंखे नम हो गई. आदित्य चार भाई में सबसे छोटा था. वह नन्दलाल सिंह कॉलेज जैतपुर दाउदपुर का इंटर का छात्र था. उसके पिता व परिवार के अन्य सदस्य उड़ीसा में रहते है. जबकि आदित्य अपने माता के साथ गांव पर रहकर पढ़ाई करता था. वह काफी होनहार लड़का था.

जिससे परिवार को उससे काफी उम्मीद थी पर होनी को कुछ और ही मंजूर था. घटना की खबर मिलते ही शीतलपुर ग्राम पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि जयप्रकाश पाण्डेय, बरेजा ग्राम पंचायत के मुखिया राजेश पांडेय, सारण जिला पारिषद के सदस्य कमलेश कुमार यादव, पूर्व मुखिया डॉ. कमलेश कुमार द्विवेदी व राजदेव यादव ने अस्पताल पहुंच घटना की जानकारी ली और शोकाकुल परिवार को ढांढस बढ़ाया. बताया जाता है कि घटना की सूचना मिलने पर एकमा थानाध्यक्ष देव कुमार तिवारी ने तत्काल मौके पर पहुंचकर आदित्य के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल छपरा भेज दिया. राजकीय रेल पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है.