Patna police busted child trafficking gang and recovered two girls, 10 arrested

पटना पुलिस ने बच्चा तस्करी गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए दो बच्चियों को किया बरामद, 10 गिरफ्तार

पटना बिहार

पटना: बिहार पुलिस: राजधानी पटना के पास स्थित दानापुर से बड़ी खबर आ रही है. पटना पश्चिम के सिटी एसपी अभिनव धीमान ने दानापुर में बच्चों को बेचने वाले एक बड़े रैकेट का खुलासा किया है. इस रैकेट में शामिल मुख्य सरगना डॉक्टर परमानंद यादव समेत 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया. दो नवजात बच्चियां को भी बरामद किया गया है. जिसका सौदा किया गया था. सीटी एसपी पश्चिमी अभिनव धीमान ने बताया कि विशेष जांच अभियान में दानापुर एसपी के नेतृत्व में खगौल पुलिस ने जांच की. वाहन पर संदेह हुआ और उसमें दो महिलाएं एक नवजात बच्चे के साथ पकड़ी गईं।

पुलिस ने कार चालक को भी गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ के दौरान एक बड़ा मामला सामने आया जिसमें डाॅ. पटना बाइपास पर होम्योपैथी की दुकान चलाने वाला प्रेमानंद यादव ही बच्चे की बिक्री का मास्टरमाइंड था. उसकी पहचान कर गिरफ्तार कर लिया गया. उसकी निशानदेही पर बख्तियारपुर के रहने वाले नवीन अस्पताल में भी हड़ताल अभियान चलाया. वहां एक नवजात शिशु बरामद किया गया और इस मामले में मास्टरमाइंड की भूमिका निभा रहे डॉक्टर नवीन को पकड़ने की कोशिश की गई. लेकिन वह फरार हो गया. फिलहाल पुलिस इस मामले में बच्चों को बेचने खरीदने के लिए इस्तेमाल कैश भी बरामद किया है.

बताया जाता है कि एक बच्चे को 50 हजार रुपये में खरीदा होती थी लेकिन दोनों बच्चियां ही बरामद की गई है. पुलिस फिलहाल जांच कर रही है कि माता पिता की भूमिका है या नहीं. फिलहाल इस मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ चल रही है. इस रैकेट का भंडाफोड़ करने में हगौला थाना अध्यक्ष सुनील कुमार और दानापुर एएसपी दीक्षा ने अहम भूमिका निभाई और उनकी टीम ने इस बड़े रैकेट का भंडाफोड़ किया.