छपरा में अपराध की साजिश रच रहे अपराधियों को पकड़ने गई पुलिस तो गाड़ी में मारा टक्कर, एक हाथियार के साथ गिरफ्तार, चार फरार

छपरा

गिरफ्तार अपराधी नट गिरोह का है सदस्य

छपरा। सारण जिले के रिविलगंज थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर एक अपराधी को हथियार के साथ गिरफ्तार किया है। इसकी जानकारी देते हुए अपर थाना प्रभारी कुंदन कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली कि रिविलगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहब्बत परसा पुल के पास कुछ अपराधी की घटना को अंजाम देने के लिए इक्कठा हुए है। उसके बाद अपने वरीय अधिकारी को सूचना दिया। और एक टीम बनाकर छापेमारी करने जाने पर अपराधी स्कॉर्पियो में सवार होकर बैक में भागने लगे जिसके बाद पुलिस गाड़ी से पीछा करने पर गाड़ी में अपराधियों ने टक्कर मार दी।

जिससे गाड़ी छतिग्रस्त हो गई। उसके बाद गाड़ी में बैठे पांच अपराधी भागने लगे जिसमे से एक को धर दबोचा गया। चार अपराधी भागने में सफल रहे। पकड़े गए अपराधी को चेक किया गया तो उसके पास से एक 315 बोर का कट्टा, 315 बोर का जिंदा कारतूस, एक रियल मि कंपनी का मोबाईल तथा एक हसूली व स्कार्पियो बरामद किया गया। पकड़े गए अपराधि से पूछा ताछ करने पर बताया कि हम लोग नट गिरोह के सदस्य है और यहां हम लोग अपराध की घटना की योजना बना रहे थे की पुलिस आ गई।

गिरफ्तार अपराधी सिवान जिला के हसनपुर थाना क्षेत्र के हसनपुर गांव निवासी धूप खलीफा का पूत्र नवीन खलीफा है।

उसने बताया कि गाड़ी मोटी रकम पर लूट डकैती चोरी के लिए लिया जाता था। उसने कहा कि हम लोग उसी में से एक के बुलाने पर आए थे। उसने बताया था कि मैनपुरा में लूट की घटना को अंजाम देना है लेकिन पुलिस ने किए कराय पर पानी फेर दिया। पुलिस टीम में सo हरिनंद गोस्वामी, सo मनोज कुमार झा, पुलिस बल सामिल थे।