छपरा में एक व्यक्ति का संदिग्ध स्थिति में शव बरामद, हत्या के मामले में मुख्य गवाह थे मृतक

क्राइम छपरा

छपरा। सारण जिले के गौरा ओपी थाना क्षेत्र से संदिग्ध स्थिति में एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया है। परिजनों ने गला दबाकर हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। मृतक की पहचान गौरा ओपी थाना क्षेत्र के सिसवा गांव निवासी 55 वर्षीय हरेंद्र शर्मा के रूप में हुआ है। शव घर से 100 मीटर दूर सड़क किनारे बरामद किया गया है। परिजनों ने हत्या का आरोप गांव के पूर्व मुखिया और उसके परिजनों पर लगाया है। घटना के बाद गांव में तनाव की स्थिति उत्त्पन्न हो गई है जिसको लेकर गौरा ओपी थाना की पुलिस सिसवा गांव में कैम्प कर रही है।

घटना के बारे में जानकारी देते हुए मित्र के भतीजा ने बताया कि गुरुवार के सुबह मृतक हरेंद्र शर्मा रोजाना की तरह टहलने गए थे। दो घन्टे तक वापस नही आने पर ख़ोजबीन शुरू किया गया तो शव गांव में ही कुछ दूरी पर सड़क किनारे से बरामद किया गया। आरोपी व्यक्तियों और और मृतक के परिवार में पूर्व में भी के बार मारपीट हो चुका है जिसमे एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। मौत के बाद न्यायालय में चल रहे केस में मृतक हरेंद्र शर्मा मुख्य गवाह थे। जिनकी अंतिम गवाही 21 अगस्त को होना था। केश को कमजोर करने केलिए आरोपियों द्वारा साजिश रच हत्या के घटना कप अंजाम दिया गया है।

वहीं घटना के बारे में जानकारी देते हुए गौरा ओपी प्रभारी ने बताया कि थाना क्षेत्र के औदाल पट्टी गांव के करीब से एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया है।शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया गया है। फ़िलहाल मृतक के परिजनों द्वारा कोई आवेदन नही दिया गया है।पुलिस मामले के। जांच में जुट गई है।परिजनों द्वारा आवेदन दिए जाने के बाद प्रथमिकी दर्ज किया जाएगा।