छपरा विद्युतीकरण कार्य का पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर ने किया निरक्षण

छपरा

छपरा रेलवे प्रशासन द्वारा यात्री सुविधाओं के उन्नयन एवं परिचालन सुगमता हेतु मूलभूत ढ़ांचे में विस्तार के क्रम में गौतम स्थान- छपरा (डाउन लाइन) 09 किमी , छपरा-छपरा कचहरी(05किमी) तथा छपरा से टेकनिवास साइड 25 किलोवाट 50 हर्ट्ज सिंगल फेज क्षमता के साथ निर्मित तीसरी रेल लाइन के विद्युतीकरण का पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर संजय सिंघल द्वारा गुरुवार को संरक्षा परिक्षण किया गया । इस संरक्षा निरीक्षण के दौरान वाराणसी मंडल के अपर मंडल रेल प्रबंधक(इंफ्रास्ट्रक्चर) रोशन लाल यादव ,वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (कर्षण) आर एन सिंह,वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (सामान्य) पंकज केशरवानी, एवं वाराणसी मंडल के वरिष्ठ पर्यवेक्षक उपस्थित थे।

प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर संजय सिंघल ने अपने निरीक्षण का आरंभ गौतम स्थान के पावर सब स्टेशन एवं रेलवे स्टेशन के निरीक्षण साथ किया और विद्युतीकृत रेल खण्ड के मानक के अनुरूप यार्ड प्लान,न्यूट्रल सेक्शन, पावर सब स्टेशन,स्टेशन वर्किंग रूल, प्लेटफार्म क्लियरेंस, ओवरहेड क्लियरेंस, सिगनलिंग क्लियरेंस ,अर्थिंग ट्रैक, ओवर हेड ट्रैक्शन की ऊँचाई ,ब्लॉक ओवर लैप,फाउलिंग मार्क, पावर सब स्टेशन,आपातकालीन फीडर सिस्टम,फीडर पावर सप्लाई वितरण प्रणाली तथा नियंत्रण फीडर आइसोलेशन आदि की संरक्षा परखी । गौतमस्थान स्टेशन पर प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर ने दोहरीकृत एवं तिहरे रेल खण्ड के विद्युतीकरण के मुताबिक विकसित विभिन्न कार्यो का निरीक्षण में सभी कार्य मानक के अनुरूप पाया ।

तदुपरान्त प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर ने टावर वैगन निरीक्षण यान से गौतम स्थान-छपरा जं-छपरा कचहरी ब्लाक सेक्शन के निरीक्षण के लिए रवाना हुए दौरान उन्होंने गौतम स्थान- छपरा रेल खण्ड पर किमी सं-02/20पर मानवरहित गेट सं सं-53 स्पेशल पर ओवर हेड विद्युत लाइन की ऊंचाई की परिमापन किया और विद्युतीकृत खण्ड के मानक के अनुरूप संरक्षा परखी,इसी क्रम में किमी सं-02/14 पर कम्पोजिट गर्डर ब्रिज संख्या-01 का निरीक्षण करते हुए किमी सं-01/32 के कट कनेक्शन तक विद्युत लाइन क्रासिंग का परिमापन किया। उन्होंने विद्युतीकृत रेल खण्ड के मानक के अनुरूप यार्ड प्लान,न्यूट्रल सेक्शन, पावर सब स्टेशन,स्टेशन वर्किंग रूल,प्लेटफार्म क्लियरेंस, पॉइंट क्रासिंग, सिगनलिंग ,अर्थिंग, ओवर हेड ट्रैक्शन की ऊँचाई ,अनुरक्षण हेतु सेफ्टी गेयर्स,इंसुलेटेड टूल्स, पावर डिस्ट्रीब्यूशन एवं विफलता की स्थिति में किये जाने वाले कार्य प्रणाली देखी। तत्पश्चात प्रमुख मुख्य विद्युत इंजिनियर ने छपरा जं ,छपरा से टेकनिवास रेल खण्ड पर 500 मीटर एवं छपरा-छपरा कचहरी 5 किमी तीसरी रनिंग लाइन का निरीक्षण कर ब्लाक सेक्शन में समपार फाटकों से ओवर हेड की उचित दूरी, कर्वेचर के इन्डेन्ट ,पूल पुलियाओं तथा ब्लाक सेक्शन में विद्युतीकृत स्टैंडर्ड मानकों के अनुसार लाइन फिटिंग्स, बैलास्टिंग एवं पैकिंग, कर्वेचर पर क्लियरेंस,संरक्षित कार्य करने हेतु तथा विद्युतीकरण के अनुरूप समपार फाटकों बूम लॉक व हाइट गेजों के संस्थापन सुनिश्चित किया ।

निरीक्षण के उपरान्त नई विद्युतीकृत लाइन पर टावर वैगन से प्रमुख मुख्य विद्युत इंजिनियर द्वारा गति परीक्षण भी किया गया । इस दौरान निरीक्षण स्पेशल ने उच्चतम गति से आम जनता को यह सूचना दी जाती है कि आज से गौतम स्थान- छपरा दोहरीकृत खण्ड को विद्युतीकृत समझें और रेलवे ट्रैक तथा (25 किलोवाट )ओवर हेड लाइन से सुरक्षित दूरी बनाये रखें।