सारण के आयान ने NEET परीक्षा में 698 अंक अर्जित कर पायी सफलता, बनेगा डॉक्टर

छपरा
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

राजपूत स्कूल से किया इंटर, साझा किया अपना सक्सेस मंत्र

छपरा। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नीट यूजी- 2024 में छपरा शहर के फिजिशियन डॉ शकील अख्तर के सुपुत्र आयान शकील ने सफलता का परचम लहराया है। उन्हें कुल 698 अंक हासिल हुए हैं। जबकि 99.89 पर्सेंटाइल है। समान्य कोटि में उन्हें 2380 ऑल इंडिया रैंक हासिल हुआ है। आयान ने बताया कि उन्होंने शहर के इंपीरियल पब्लिक स्कूल से मैट्रिक करने के बाद राजपूत हाई स्कूल से इंटर किया। मेडिकल की तैयारी के लिए पहले कोचिंग लिया। उसके बाद सेल्फ स्टडी किया। अपनी सक्सेस मंत्र साझा करते हुए बताया कि उनके इंस्सेपेरेशन खुद पिता हैं। सेल्फ स्टडी को 10-12 घंटे देता था। जब तक मन करता था पढ़ता रहता था। जब प्रेशर होता था, जब भी तनाव महसूस होता था तो अपनी मां रुबीना फिरदौस और शिक्षकों से बात करता था।

मेरे मम्मी-पापा और अंकल फहीम उर्फ साहेब का मुझे बहुत सपोर्ट मिला है। व्हाट्सएप के अलावा इंटरनेट मीडिया का इस्तेमाल से बिल्कुल दूरी रखी। पुराने पेपर का एनालिसिस और माक टेस्ट के माध्मम से यह अंक हासिल किए। मेरा मनना है कि पढ़ाई में रिवीजन और नियमितता जरूरी है। पांच-दस साल पुराने पेपर को हल करने से बहुत लाभ हुआ। ऐसा नहीं है कि परीक्षा में वही प्रश्न आएं। लेकिन उन्हीं प्रश्न पत्रों से मिलते जुलते सवाल आते हैं। जिन्हें हल करना आसान हो जाता है और समय भी बचता है। उन्होंने बताया कि यह मेरा तीसरा अटेम्ट था। मगर मैं निराश नहीं हुआ। प्रयास जारी रखा। डीमोटिवेट नहीं हों और लक्ष्य तय कर लगतार मेहनत पढ़ाई करें। सफलता मिलनी ही है।

उन्होंने बताया कि प्रवेश के लिए पटना एम्स मेरी पहली प्राथमिकता होगी। मेरी ईच्छा न्यूरो में जाने की है। ज्ञात हो कि गत सालों की आपेक्षा में इस बार पेपर काफी आसान था। इसलिए बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों ने सफलता अर्जित की है। अंदाजा है कि 610 नंबर से ऊपर वालों को सरकारी मेडिकल कालेज में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश मिल जाएगा।