शिक्षित व संगठित बनकर हीं जगदेव बाबू के सपने को किया जा सकता है साकार : ओमप्रकाश

छपरा

छपरा। सारण जिले के मांझी प्रखंड के कोहड़ा बाजार स्थित स्मारक स्थल पर मंगलवार को बिहार लेनिन शहीद जगदेव प्रसाद का शहादत दिवस मनाया गया। इस मौके पर स्मारक के संस्थापक सत्यदेव प्रसाद व रालोजद के प्रदेश महासचिव ओमप्रकाश कुशवाहा के नेतृत्व में साधपुर- चमरहियां मुख्य मार्ग के किनारे स्थापित शहीद जगदेव प्रसाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया।

इस मौके पर श्री कुशवाहा ने कहा कि क्रांतिकारी जगदेव बाबू जब तक रहे समता मूलक समाज की स्थापना के लिए लड़ते रहे। उन्होंने कमजोर वर्ग के लोगों, दलितों, पीड़ितों व पिछड़ों को एकजुट करने का हमेशा प्रयास किया। वे समाज में पूर्ण सम्मान के साथ जीने व सत्ता में सबकी हिस्सेदारी की आवाज को बुलंद करते रहे। यह बात कुछ लोगों को नागवार गुजरी।

इसलिए सुनियोजित एक साजिश के तहत उनकी हत्या कर दी गई। श्री कुशवाहा ने कहा कि जब तक हर दबे व पिछड़े वर्ग के लोग शिक्षित, संगठित व जागरूक नही होंगे तब तक समाज व देश में उन्हें वाजिब हक नही मिलेगा। शिक्षित व संगठित होने से हीं जगदेव बाबू का सपना साकार होगा। मौके पर अच्छेलाल प्रसाद, हसनैन अली, राज कुमार राम, मनोज राम, अवध लाल मांझी, कपिल प्रसाद, सोनू कुमार, सलीम मियां, हरेंद्र राय, सुग्रीव प्रसाद, मुर्तुजा मियां, तूफानी मांझी, डॉ. जमीर, डॉ. मनोज कुमार, संजीत कुशवाहा, मनीष कुशवाहा, आत्मा राम समेत अनेक लोग मौजूद थे।