कोविड-19 के जांच में आई तेजी, रैपिड एंटीजन किट से रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद आरटी-पीसीआर से होगी जांच

इस समाचार को शेयर करें

•कार्य को गति देने के लिए प्रधान सचिव ने दिया आवश्यक सुझाव

• जिले में अत्यंत उत्साह के साथ कार्य कर रहे हैं कोरोना योद्धा

@संजीवनी रिपोर्टर
छपरा। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के प्रसार के रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से हर रोज नए-नए निर्णय लिए जा रहे हैं। साथ ही आवश्यक उपकरणों की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराई जा रही है। जिले में कोरोना के जांच में काफी तेजी आई है जिले के कोरोना योद्धा अत्यंत उत्साह के साथ अपने कर्तव्य को निभा रहे हैं।

 

कोविड-19 की जांच व उपचार कार्य को गति देने के लिए स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी जिलाधिकारी को आवश्यक सुझाव तथा दिशा निर्देश जारी किया है। जारी पत्र में कहा गया है कि विगत दिनों में कोविड-19 संक्रमण की जांच में काफी तेजी आई है जिले में अत्यंत उत्साहवर्धक कार्य किए जा रहे हैं । इस कार्य को गति देने के लिए कुछ आवश्यक सुझाव दिए जा रहे हैं। जिसका अनुपालन सुनिश्चित कराई जाए।

रैपिड एंटीजन किट से रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद आरटी पीसीआर के माध्यम से होगी जांच:

जारी पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि जिन इलाकों में व्यापक रूप से रैपिड एंटीजन किट का प्रयोग किया जा रहा है । वहां पर कोशिश होनी चाहिए कि निगेटिव आने वाले व्यक्तियों की जांच आरटी पीसीआर के माध्यम से कराई जाए। बाढ़ प्रभावित इलाकों में भी इसी प्रकार की कार्रवाई अपेक्षित होगी। सिवान, मधुबनी, नवादा, लखीसराय, अररिया, मधेपुरा मोतिहारी सहरसा शिवहर एवं भागलपुर में आरटी पीसीआर पूल टेस्टिंग के लिए निर्देशित किया गया है।

 

शाम 6:00 बजे तक सैंपल भेजने का निर्देश:

पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि सभी सैंपल शाम 6:00 बजे के पूर्व ही संबंध लैब को भेज दिया जाए । साथ ही साथ ही इस बात का भी ख्याल रखें भेजे जा रहे हैं सैंपल को सैंपल नंबर वाइज बॉक्स में व्यवस्थित करके ही भेजें। सभी आरटी पीसीआर लैब्स के प्रभारी द्वारा आश्वस्त किया गया है कि जिले से भेजे जाने वाले सैंपल का रिजल्ट 24 घंटे के अंदर निश्चित रूप से दिया जाएगा।

 

 

सभी पीएचसी स्तर पर हो रहा है कोरोना का जांच:

जिले में कोरोना संक्रमित ओके बढ़ती संख्या के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग अस्पतालों में मरीजों के चिकित्सा को लेकर प्रयासरत है सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है ताकि कोरोना के उपचाराधीन को तत्काल चिकित्सकीय उपचार उपलब्ध हो सके स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कोरोना की जांच के लिए जिले के सभी पीएचसी पर रैपिड एंटीजन कीट के माध्यम से टेस्टिंग कराई जा रही है।

 

 

30 मिनट के अंदर मिल रहा है रिजल्ट:

रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से 30 मिनट के अंदर कोरोना रिपोर्ट मिल रहा है । वही आरटी पीसीआर में रिजल्ट आने में 6 से 24 घंटे लग जा रहे हैं। रैपिड एंटीजन किट में संदिग्ध व्यक्ति की नाक में स्ट्रिप डालकर स्वैब का सैंपल लिया जाता है। किट में सलूशन की तीन ड्रॉप डालकर फ्लूट के साथ मिलाया जाता है। अगर रिपोर्ट में एक लाइन आती है तो रिपोर्ट निगेटिव होती है। लाइन दो हो जाए तो आप कोरोना पॉजिटिव माना जाता है। यह किट सबसे ज्यादा कारगर सिद्ध हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!