सीएए के खिलाफ यात्रा: सभा की इजाजत नहीं मिली तो धरने पर बैठे कन्हैया, पुलिस ने हिरासत में लिया

इस समाचार को शेयर करें

बेतिया। पश्चिमी चंपारण जिले से सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ यात्रा शुरू करने पहुंचे जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। कन्हैया बेतिया के गांधी मैदान में सभा करने वाले थे, लेकिन प्रशासन ने विधि व्यवस्था और सरस्वती पूजा को देखते हुए रैली को मंजूरी नहीं दी। सभा को मंजूरी नहीं मिलने पर कन्हैया गांधी आश्रम के बाहर धरने पर बैठ गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने कन्हैया को हिरासत में ले लिया। यात्रा शुरू करने की इजाजत नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ता उग्र हो गए और गांधी आश्रम के बाहर जमकर हंगामा किया। तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात किया गया है।

‘दम है कितना दमन में तेरे देख लिया है देखेंगे…’

कन्हैया का कहना है कि मैंने तो पहले ही सूचना दे दी थी कि गुरुवार से यात्रा की शुरुआत करने जा रहा हूं। जानकारी देने के बाद भी सरकार ने मुझे पहले क्यों नहीं रोका? अचानक प्रशासन की तरफ से कार्यक्रम क्यों रद्द कर दिया गया? कन्हैया ने ट्वीट कर लिखा-“दम है कितना दमन में तेरे देख लिया है देखेंगे, जगह है कितनी जेल में तेरे देख लिया है देखेंगे”।इससे पहले कन्हैया ने गांधी आश्रम पहुंचकर महात्मा गांधी के मूर्ति पर माल्यार्पण किया। इस दौरान कन्हैया के सैकड़ों समर्थक वहां मौजूद रहे। गांधी मैदान में कन्हैया की दोपहर एक बजे से शाम बजे तक सभा होनी थी। प्रशासन का कहना है कि शहर में विधि व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए डीएम ने सभा को रद्द करने का आदेश दिया है।

चनपटिया में लगे कन्हैया गो बैक के नारे

सीएए के खिलाफ यात्रा शुरू करने पहुंचे कन्हैया को पश्चिमी चंपारण के चनपटिया में विरोध का सामना करना पड़ा। बैनर-पोस्टर लिए दर्जनों लोग सड़क किनारे खड़े थे। जैसे ही कन्हैया का काफिला गुजरा लोग कन्हैया गो बैक के नारे लगाने लगे। लोगों का कहना है कि कन्हैया को यहां से यात्रा की शुरूआत नहीं करने देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!