छपरा: परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ सारण इकाई द्वारा स्थानीय नगरपालिका चौक पर पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा का पुतला दहन किया गया.इस दौरान शिक्षकों ने उपेंद्र कुशवाहा हाय हाय, उपेंद्र कुशवाहा शर्म करो, अपना बयान वापस लो, के नारे भी लगाए गए.

जिला अध्यक्ष समरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा द्वारा लोकसभा में शिक्षकों के प्रति दिया गया बयान अशोभनीय है. शिक्षक भविष्य का निर्माण करता है और उनके प्रति लोकसभा के सदन में शिक्षकों के प्रति अमर्यादित बयान देकर शिक्षकों का अपमान किया गया है. जिससे संपूर्ण शिक्षक जाति अपमानित महसूस कर रही है.

श्री सिंह ने कहा कि नियोजित शिक्षकों के विद्यालय में आने से सूबे की शिक्षा व्यवस्था पुनः पटरी पर लौटी है. आज विद्यालय में छात्रों की उपस्थिति शत प्रतिशत है.

उनका कहना है कि 2005 में जहां बिहार में शिक्षा का स्तर 35% था आज 60% तक पहुंच गया है. नियोजित शिक्षकों ने बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा में अपना परचम लहरा कर अपनी काबिलियत साबित किया है. साथ ही विशिष्ट पदों पर भी वह अपना योगदान देकर समाज की सेवा कर रहे हैं, ऐसे में सूबे के नियोजित शिक्षकों के प्रति उपेंद्र कुशवाहा का बयान घोर निंदनीय है.

श्री सिंह ने कहा कि पूर्व मंत्री अविलंब अपना बयान वापस ले और शिक्षकों से माफी मांगे अन्यथा उन्हें आगामी लोकसभा चुनाव में शिक्षकों के कोप भाजन का शिकार होना पड़ेगा.

पुतला दहन कार्यक्रम में संजय राय, जग नंदन सिंह, सुखदेव सिंह, हवलदार माझी, अनिल दास, स्वामी नाथ राय, राजेश कौशिक, निजामुद्दीन, उमेश कुमार, अनुज राय, विनोद राय, पंकज प्रकाश सिंह, मुकेश कुमार, एहसान अंसारी, अशोक यादव, अजय राम, मंटू सिंह, बबलू सिंह, देव भूषण श्रीवास्तव, सुनील सिंह, विकास कुमार उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here