रेलमंत्री ने 2375 रेलकर्मियों को सेवानिवृत्त होने पर दी विदाई

इस समाचार को शेयर करें

@संजीवनी रिपोर्टर
छपरा: रेलमंत्री पीयूष गोयल ने 31 अक्टूबर को सेवा निवृत्त हो रहे कुल 2375 रेलकर्मियों को नई दिल्ली से वीडियोलिंक के माध्यम से गुरूवार को आयोजित समारोह में भावभीनी बिदाई देते हुए उनके सुखमय भविष्य की कामना की।
इस अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री गोयल ने कहा कि भारतीय रेल वस्तुतः एक अनोखा परिवार है। सद्भावना, संवेदना, आपसी मेलजोल एवं एक दूसरे कर्मचारियों के प्रति सजगता रेल परिवार की विषेषता है। अगर यहीं भावना अन्य क्षेत्रांें में फैल सके तो देष की प्रगति में चार चाँद लग जायेंगे। उन्होंने कहा कि एक लम्बी अवधि की सेवा के बाद सेवा निवृत्त होने तक रेलकर्मियों का पारिवारिक संबंध बन जाता है।

 

श्री गोयल ने कहा कि भारतीय रेल का भविष्य स्वर्णिम है। श्री गोयल ने सेवा निवृत्त रेलकर्मियों से अपेक्षा कि की वे अपने अनुभव के आधार पर रेल के विकास हेतु अपने सुझाव रेल मंत्रालय को उपलब्ध करायें। श्री गोयल ने सेवा निवृत्त हो रहे रेलकर्मियों को भावी जीवन में सक्रिय रहने का सुझाव देते हुए उनके सुखमय एवं दीर्घ जीवन की कामना की।

इसके पूर्व चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने अपने स्वागत सम्बोधन में रेल, वाणिज्य, उद्योग तथा उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री द्वारा समस्त भारतीय रेल से प्रतिमाह सेवा निवृत्त होने वाले कर्मचारियों को वर्चुअल बिदाई देने की परम्परा की सराहना की। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से पूरे देश के रेलकर्मी एक दूसरे के सम्पर्क में आते है। भारतीय रेल एक जनोपयोगी संस्था है तथा हम यात्री एवं माल परिवहन के माध्यम से पूरे देश की सेवा करते है।

 

कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान भारतीय रेल द्वारा किये जा रहे उल्लेखनीय प्रदर्शन पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने रेलकर्मियों की कर्मठता एवं समर्पण भावना की भूरि-भूरि सराहना की। सेवानिवृत्त हो रेलकर्मियों को शुभकामनाएं देते हुए कि भविष्य में भारतीय रेल उनकी हर प्रकार से सेवा के लिये उपलब्ध रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!