छपरा : जिलाधिकारी डाॅ. निलेश रामचन्द्र देवरे के द्वारा अपने कार्यालय कक्ष से वीडियों काॅन्फ्रेंसिग के माध्यम से टीकाकरण के महाअभियान की प्रगति की समीक्षा की गयी जिसमें सारण जिला को कोरोना मुक्त करने के लिए चलाये जा रहे टीकाकरण के महाअभियान को सफल बनाने के लिए जन-जागरूकता कार्यक्रमों को लेकर पंचायत प्रभारियों की जबावदेही तय की गयी है। जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायतों के विभिन्न बूथों पर होने वाले टीकाकारण की तिथि निर्धारित की गयी है और वहाँ के सभी लोगों को टीका लग जाय इसके लिए निर्धारित तिथि के तीन दिन पूर्व से ही वहाँ पर व्यापक जन-जागरूकता का कार्यक्रम चलाने का निदेश दिया गया है

जिसमें चैपाल लगाने से लेकर डारे-टू-डोर अभियान शामिल है। परन्तु समीक्षा में पाया गया है कि टीका के प्रति लोगों में जागरूकता का अभाव है।

जिलाधिकारी के द्वारा सभी प्रखण्डों के वरीय पदाधिकारियों को निदेश दिया गया कि पंचायत प्रभारियों के साथ प्रतिदिन समीक्षा करें और कहीं कोई पेरशानी है तो उसे दूर करायें। आँगनबाड़ी सेविका, सहायिका, विकास मित्र, किसान सलाहकार, जीविका दीदी घर-घर जाकर लोगों को टीकाकरण के लाभ को बतायें। इसमें वार्ड पार्षद सहित सभी स्थानीय जन-प्रतिनिधियों का सहयोग लिया जाय। जागरूकता अभियान के दौरान लोगों में व्याप्त भय एवं भ्रम को दूर किया जाय। लोगों को यह बताया जाय कि टीका पूरी तरह सूरक्षित है। टीका लेने के बाद ही हम सुरक्षित हैं और टीका लेकर ही परिवार और समाज को सुरक्षित कर सकेंगे।

टीका ले चुके लोगों को भी शामिल करें:

जिलाधिकारी ने कहा कि जो लोग टीका ले चुके हैं उन्हे भी अभियान से जोड़ा जाय। जिलाधिकारी के द्वारा तीनों अनुमण्डल पदाधिकारियों को भी प्रतिदिन टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा करने का निदेश दिया गया। सिविल सर्जन को निदेश दिया कि प्रखण्डों में पदस्थापित चिकित्सक में से ही किसी एक चिकित्सा पदाधिकारी को उस प्रखण्ड का इम्युनाइजेशन इन्चार्ज बनाया जाय ताकि टीकाकरण के कार्यों में गति आ सके। समीक्षा में पाया गया कि टीकाकरण में जहाँ माँझी, सदर छपरा, लहलादपुर एवं एकमा प्रखण्ड में बेहतर उपलब्धि अर्जित की गयी है वहीं रिविलगंज और मढ़ौरा में उपलब्धि नगण्य है।

वीडियों काॅन्फ्रेंसिग में जिलाधिकारी के साथ उप विकास आयुक्त, अमित कुमार, अपर समाहत्र्ता, डाॅ गगन, सिविल सर्जन, डाॅ जर्नादन प्रसाद सुकुमार सहित सभी प्रखण्डों के वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here