सोनपुर से बाल्मिकी नगर तक राष्ट्रीय उच्च पथ का होगा निर्माण : रूडी

इस समाचार को शेयर करें

-1.6 करोड़ की लागत से पहलेजा में विद्युत शवदाह गृह का हुआ उद्घाटन

@संजीवनी रिपोर्टर
छपरा: शिवचन चौक से बाल्मिकी नगर तक राष्ट्रीय उच्च पथ के निर्माण की महत्वपूर्ण योजना बनी है। उक्त बातें सारण लोकसभा क्षेत्र के सांसद सह भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव प्रताप रुडी ने शुक्रवार को कही। सोनपुर के पहलेजा में विद्युत शव दाह गृह के उद्घाटन के वर्चुअल कार्यक्रम के पश्चात रुडी ने कहा कि इसके निर्माण से नेपाल की अंतरराष्ट्रीय सीमा तक जाने में समय की बचत होगी, बल्कि व्यापार के साथ-साथ पथ के निकट पड़ने वाले गांवों का चहुंमुखी विकास भी होगा।

 

 

उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त नमामि गंगे परियोजना के तहत सारण में घाटों का भी निर्माण हो रहा है, जो राज्य के किसी भी घाट से सुंदर व आकर्षक है। उन्होंने कहा कि सारण के चहुंमुखी विकास की कई परियोजनाओं का कार्यान्वयन जारी है। इन परियोजनाओं के पूरा होने के बाद विकास के मामले में सारण का एक अलग पहचान होगी और यह एक मानक जिला के रूप में स्थापित होगा। उन्होंने कहा कि शव दाह गृह के बन जाने से प्रदुषण तो, कम होगा ही, आमजन व निम्न वर्गों पर बोझ कम पड़ेगा और श्मशान घाट पर मनमाने तरीके से आर्थिक वसूली पर भी लगाम लगेगा। वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम की अध्यक्षता बिहार सरकार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा कर रहे थे।

 

कार्यक्रम में सारण जिला के प्रभारी मंत्री होने के नाते स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी उपस्थित थे। इसके अतिरिक्त नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव आनंद किशोर, बुडको के प्रबंध निदेशक रमण कुमार, सारण जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन, समेत सोनपुर के अनुमंडल पदाधिकारी और अन्य वरिय पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

पतित पावनी गंगा तक तट पर 1.6 करोड़ रूपये से अधिक की लागत से निर्मित इस शवदागृह में 48 शवों के दाह संस्कार की क्षमता है। सारण के विकास के लिए सदैव प्रयत्नशील और योजनाओं को कार्यरूप में परिणत करने के लिए स्थानीय सांसद निरंतर सक्रिय है। उनकी सक्रियता के एक और नायाब उदाहरण पहलेजा की यह महत्वपूर्ण योजना है। राज्य की राजधानी पटना से सटे सारण के इस क्षेत्र में यह शवदागृह अत्यंत महत्वपूर्ण है। कोरोना काल में जब अस्पतालों में किसी भी गंभीर बिमारी के मरीज की मृत्यु के बाद भी परिजन उसके शव को हाथ नहीं लगाते है,

 

वैसी स्थिति में यह पटना ही नहीं बल्कि सारण क्षेत्र के लिए भी यह सुविधा संपन्न विद्युत शवदाहगृह महत्वपूर्ण बन जाता है। विद्युत के क्षेत्र में बिजली की सुचारू उपलब्धता सुनिश्चित कराने के बाद सांसद ने पहले भी कहा था कि यहां विद्युत शवदाहगृह का निर्माण किया जायेगा जो आज पूरा हुआ।
सांसद रुडी ने सारण के समेकित विकास की कई योजनाओं के संदर्भ में चर्चा की। इसकी जानकारी पूर्व जिला उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह चौहान ने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!