अस्पताल की व्यवस्था में सुधार नहीं होने पर डीएम ने अधिकारियों को लगायी फटकार

इस समाचार को शेयर करें

– आउट सोर्शिंग एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई का निदेश

@संजीवनी रिपोर्टर
छपरा : सदर अस्पताल की व्यवस्था में सुधार नहीं होने पर डीएम सुब्रत कुमार सेन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी और आउट सोर्शिंग एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने का निदेश दिया। उन्होंने सफाई करने वाली एजेन्सी से स्पष्टीकरण पूछने का आदेश दिया और कार्य प्रणाली में सुधार नहीं होने पर एजेन्सी को चयन मुक्त करने का निदेश दिया।

प्रमंडलीय आयुक्त आर एल चोंग्थू ने अधिकारियों के साथ सदर अस्पताल के विभिन्न वार्डो एवं आइसोलेशन केन्द्र का निरीक्षण किया। इस दौरान कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों के चल रहे ईलाज की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर पुलिस उप महानिरीक्षक विजय कुमार वर्मा, जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन, अनुमंडल पदाधिकारी सदर अभिलाषा शर्मा मौजूद थे। आयुक्त कोरोना के मरीजों से मिलकर उनको मिल रही सुविधाओं की जानकारी लिया।

 

कोरोना की चल रही जांच काउण्टर पर गये और वहां की व्यवस्था का जायजा लिया। सभी लागों को मास्क लगाकर रहने तथा दूरी बनाकर जांच के लिए कतार में खड़ा कराने का निदेश दिया। जीएनएम सेन्टर को देखा तथा वहां चल रहे कार्यों के बारे में जानकारी लिया। नियंत्रण कक्ष भी देंखें, जहां से टेलिफोन के द्वारा होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से प्रति दिन उनके स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की जा रही है। इससे संबंधित पंजी संधारित की जा रही है। आयुक्त ने संधारित पंजी का भी अवलोकन किया। होम आइसोलषन में रहने वाले मरीजों को दी जा रही दवा की किट भी देखा। एजीथ्रोमाईसिन टेबलेट, विटामिन सी, बी- कम्पलेक्स दवा थी।

 

आयुक्त ने आईसीयू, प्रसूति वार्ड, आपात कालीन को देखा। पारा मेडिकल ट्रेनिंग सेन्टर और हाॅस्टल की नव निर्मित भवन को देखें । आयुक्त ने साफ-सफायी की व्यवस्था सुदृढ़ करने तथा मरीजों को अच्छा खाना उपलब्ध कराने का आदेश दिया।

 

जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने प्रभारी सिविल सर्जन एवं डीपीएम को स्पष्ट निदेश दिया कि सदर अस्पताल की सफाई करने वाली एजेन्सी से स्पष्टीकरण पूछे। कार्यप्रणाली में सुधार नहीं होने पर एजेन्सी को चयन मुक्त करने का निदेश दिया। खाना का सप्ताहिक मेन्यू बनाने तथा खाना खिलाने वाली एजेन्सी को इस संबंध में सख्त निदेश दिया । खाना के साथ मरीजों को गर्म पानी भी एजेन्सी उपलब्ध करायें। यह सुनिष्चित करें।

 

जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को निदेश दिया कि सभी पीएचसी, सीएचसी से लेकर सदर अस्पताल तक कार्य सुचारू रूप से संम्पादित हो, इसकी माॅनिटरिंग करें। सभी पीएचसी से दवा एवं टेस्ट-कीट की उपलब्धता का प्रतिदिन रिपोर्ट ले। समय रहते आपूर्ति सुनिश्चित करें। सभी पीएचसी पर कोरोना की जाँच शुरू करायें। उसे हर हाल में सुनिश्चित कराये। सोनपुर एवं छपरा शहरी क्षेत्र से कोरोना संक्रमण के मामले अधिक आ रहे हैं। इन दोनों क्षेत्रों में जाँच का दायरा बढ़ायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!