DM ने की पदाधिकारियों के साथ बैठक, बोले- खतरनाक घाटों को चिन्हित कर लोगों को सूचित करें

इस समाचार को शेयर करें

छपरा । दीपावली, लक्ष्मीपुजा और लोक आस्था के महापर्व छठ के अवसर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक की गयी। जिसमें पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय के साथ-साथ जिलास्तरीय पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी आदि उपस्थित में। जिलाधिकारी ने कहा कि छठ पूजा के महातम्य को देखते हुए सभी छठ घाटों का निरीक्षण कर लिया जाय और जो घाट खतरनाक हो गये हैं उसकी सूचना स्थानीय लोगों को पहले हीं दे दिया जाय। इस संबंध में माइकिगं भी करा दिया जाय। वहाँ इस आष्य का पोस्टर या फ्लैक्स लगा दिया जाय। वैसे घाट जहाँ छठ किया जाना है वहाँ वैरिकेटिंग कराकर लाल झण्डे़ का निषान लगा दिया जाए। वहाँ नाव एवं गोताखोरों की व्यवस्था की जाय। गोताखोरों का नाम और मोवाइल नम्बर पहले ही प्राप्त कर लिया जाय। घाटों पर पूजा समितियों से वार्ता कर पर्याप्त लाइटिंग की व्यवस्था करायी जाय। वैसें घाट जहाँ बड़ी संख्या में भीड़ एकत्रित होती है वहाँ पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगायी जाय। वहाँ के लिए एस डी आर एफ की टीम व्यवस्था भी करायी जा रही है। छठ घाटों पर आतीषबाजी पूर्णतः प्रतिबंधित रखा जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि वैसे तलाब जो ज्यादे गहरे है अगर वहाँ छठ पूजा की जानी है तो वहा भी वैरिकेटिंग करायी जाय।

कालीपूजा के लिए लाइसेंस जरूरी

कालीपूजा के संबंध में जिलाधिकारी द्वारा निदेश दिया गया कि थाना स्तर पर शांति समितियों की बैठक कर लिया जाय एवं कालीपूजा के लिए स्थापित किये जाने वाले मूर्ति हेतु अनुज्ञप्ति दिया जाय तथा मूर्ति के विसर्जन का मार्ग तथा समय निर्धारित कर दिया जाय। इन अवसर पर डीजे पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। केवल लाउडस्पीकर का उपयोग किया जाय। पर्व त्योहार के अवसर पर किये जाने वाले पटाखाबाजी के संदर्भ में जिलाधिकारी ने कहा कि पटाखाबाजी रात्रि के 10 बजे के बाद नहीं किया जाय इसे सभी थाना प्रभारी सुनिश्चित करायें।

खुले स्थान पर हो पटाखा दुकान

पटाखा दुकान खुले स्थान पर हो पतली गली में नही हो यह भी सुनिश्चित करायी जाय। पटाखा भण्डारण का जगह भी भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में नहीं होना चाहिए यह भी देखें। वैसे पटाखे जिसे प्रतिबंधित कर दिया गया है उसे नहीं छोड़ा जाना चाहिए।

विशेष गस्ती करने का निर्देश

पुलिस अधीक्षक हर किशोर राय ने कहा कि रात्रि में पुलिस गस्त्ति बढ़ा दिया जाय और सुनसान इलाको में विशेष व्यवस्था रखी जाय। होटल, वस स्टैण्ड एवं अन्य सार्वजनिक सथलों की जाँच की जाय। पर्व-त्योहार के अवसर पर यातायात को सुचारू रखने की व्यवस्था की जाय। पुलिस बल विशेष चैकसी करते।

छपरा जक्शन पर नि:शुल्क बस सेवा शुरू

एसपी ने कहा कि छपरा जंक्शन से पुलिस के द्वारा रात्रि बस सेवा उपलब्ध करायी जा रही है यात्रि गण उसका भी उपयोग कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!