संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी ने काला बिल्ला लगाकर किया विरोध प्रदर्शन

इस समाचार को शेयर करें

छपरा : बिहार राज्य स्वास्थ्य संविदा कर्मी संघ ने सोमवार को काला बिल्ला लगा कर विरोध प्रदर्शन किया और कहा कि 21 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू किया जायेगा। काला बिल्ला लगाकर विरोध प्रदर्शन कर इसकी शुरुआत कर दी गयी है। संघ के नेताओं ने बताया कि 24 जून 2020 को राज्य सरकार के द्वारा संघ के साथ वार्ता करने का लिखित पत्र दिया गया था , परंतु सरकार की ओर से संघ की मांगों पर निर्णय लेने के लिए वार्ता नहीं की गयी, जिसके कारण पूर्व में ही अल्टीमेटम दे दिया गया है। उन्होंने बताया कि 16 सूत्री मांगों को लेकर संघ की ओर से राज्यव्यापी आंदोलन चलाने का निर्णय लिया गया है, जिसमें मुख्य रुप से प्रबंधन से जुड़े सभी कर्मियों का एक माह के मानदेय के समतुल्य प्रोत्साहन राशि देने, पब्लिक हेल्थ मैनेजमेंट कैडर लागू कर समायोजन करते हुए सेवा को नियमित करने, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत कार्यरत कर्मियों के लंबित मानदेय का पुनरीक्षण करने और पुनरीक्षित वेतनमान देने, फिटमेंट कमेटी की अनुशंसा लागू करने, पहले से कार्यरत कर्मियों को उम्र सीमा में 15 वर्ष की छूट देने, प्रतिवर्ष 15 प्रतिशत वार्षिक वेतन वृद्धि करने, सेवा नियमित होने तक एचआर पॉलिसी लागू करने एवं चयन मुक्त जैसी निरंकुश प्रथा समाप्त करने, अतिरिक्त प्रभार संभालने वाले कर्मियों को अलग से भत्ता देने, संविदा मुक्त सभी कर्मियों को बिना शर्त सेवा में बहाल करने, किसी भी कर्मी को अपरिहार्य कारणों से चयन मुक्त नहीं करने, कर्मियों को निलंबित करने पर जीवन निर्वाह भत्ता के रूप में मानदेय की 50 प्रतिशत राशि का भुगतान करने, आउटसोर्सिंग प्रथा समाप्त करने और पहले से आउटसोर्सिंग के तहत कार्यरत सभी कर्मियों की सेवा नियमित करने, सेवाकाल के दौरान आकस्मिक मृत्यु होने पर आश्रितों को 2500000 रुपए क्षतिपूर्ति एवं परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की मांगे शामिल है। सरकार इस पर समय रहते कार्रवाई नहीं करेगी तो, 21 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर सभी कर्मचारी चले जाएंगे। इसके पहले 20 जुलाई को एक दिवसीय सांकेतिक हङताल किया जायेगा। इस मौके पर अरविंद कुमार, रमेश चंद्र कुमार, विजेंद्र कुमार सिंह, अमरेंद्र कुमार सिंह, भानु शर्मा, अनूप कुमार ,श्वेता कुमारी राय, ऋचा कुमारी आदि ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!