पीएम नरेंद्र मोदी ने बिहार को दी 294.53 करोड़ की सौगात, पूर्णिया की मोनिका देवी के कार्य की सराहना की

इस समाचार को शेयर करें

@संजीवनी रिपोर्टर
पटना।पटना : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को 294.53 करोड़ रुपये की सौगात दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बिहार में मत्स्य, पशुपालन और कृषि विभाग से जुड़ी 294.53 करोड़ की योजनाओं का वर्चुअल तरीके से उद्घाटन और शिलान्यास किया.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्णिया जिले की मोनिका देवी से कहा कि उन्होंने स्वावलंबन और आत्मनिर्भरता के लिए जो भी काम किये हैं,

वे उदाहरण बनने लायक हैं. उन्होंने मोनिका और उनके साथियों को वैज्ञानिक तरीकों से पशुपालन करने की प्रेरणा दी.सुशील मोदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया कि बिहार में जो 10 करोड़ की फिश लैब स्थापित होगी, उससे 300 करोड़ रुपये का फायदा होगा. दो लाख 88 हजार मीट्रिक टन 2007-08 में मछली का उत्पादन होता था, जबकि अब यह तीन गुणा बढ़ कर छह लाख मीट्रिक टन से अधिक हो गया है. उन्होंने कहा कि बिहार देश का पहला राज्य है, जो वेटनरी में पढ़नेवाले छात्र-छात्राओं को स्कॉलरशिप देता है.

 

 

वहीं, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में पांच साल में 24 हजार हेक्टेयर में नये तालाब खुदे. बिहार भी एक ऊंचाई पर पहुंचा.

 

 

पीएम मोदी प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना अंतर्गत 107 करोड़ की लागत की परियोजना, पांच करोड़ की लागत से सीतामढ़ी के डुमरा में बखरी मछली बीज फार्म, 10 करोड़ की लागत से रोग निदान और गुणवत्ता परीक्षण को किशनगंज के मत्स्य पालन कॉलेज में जलीय रेफरल प्रयोगशला, मधेपुरा में एक करोड़ की लागत से मत्स्य चारा मिल, पटना के मसौढ़ी में दो करोड़ की लागत से फिश ऑन व्हील्स तथा 2.87 करोड़ की लागत से कृषि विश्वविद्यालय, पूसा में समेकित मात्स्यिकी उत्पादन प्रौद्योगिकी केंद्र का उद्घाटन किया.

 

 

इसके अलावा राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत 84.27 करोड़ की लागत से पूर्णिया सीमेन स्टेशन, 8.06 करोड़ की लागत से बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय, पटना में इम्ब्रयो ट्रांसफर टेक्नोलॉजी (इटीटी), आईवीएफ लैब तथा 2.13 करोड़ की लागत से बेगूसराय, खगड़िया, समस्तीपुर, नालंदा और गया में तैयार सीमेन परियोजना का शुभारंभ किया. डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विवि समस्तीपुर में कुल 74 करोड़ की विभिन्न योजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *