शहीद मेजर विकास सिंह का पार्थिव शरीर पहुंचा गांव, अंतिम दर्शन को उमड़ा जन सैलाब

इस समाचार को शेयर करें

गाजीपुर । जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में अंबुश के दौरान शहीद हुए सुहवल थाना क्षेत्र के ताड़ीघाट निवासी मेजर विकास सिंह का पार्थिव शरीर सोमवार को देर रात पहुंचा तो माहौल गमगीन हो गया। परिवार में कोहराम मच गया। बेटे को देख मां सरोजा सिंह का कलेजा फट पड़ा तो पत्नी आंचल बेसुध हो गई। अपने जाबाज सपूत के अंतिम दर्शन को पूरा जनपद उमड़ा रहा। मेजर विकास सिंह अमर रहें के नारे से इलाका गूंज उठा।
घर सोमवार की सुबह सैकड़ों लोगों का जमावड़ा लगा रहा। दोपहर जिलाधकारी के बालाजी व पुलिस अधीक्षक डा. अरविद चतुर्वेदी शहीद के गांव जाकर परिजन से मिले और उन्हें ढांढस बंधाया। जिलाधिकारी ने शहीद के चाचा देवेंद्र सिंह सहित अन्य लोगों को हिम्मत से काम लेने को कहा।

सोमवार की सुबह शहीद मेजर विकास सिंह का पार्थिव शरीर ताड़ीघाट पहुंचने की सूचना आसपास के सभी गांवों से लोग पहुंचने लगे, अचानक पता चला कि फ्लाइट रद होने के कारण देर शाम हो जाएगा। बावजूद इसके भीषण गर्मी के मौसम में लोग अपने वीर जवान का इंतजार करते रहे। ग्रामीण परिजन को ढांढस तो बधा रहे थे, लेकिन अपने लाल को खोने के गम में खुद को भी नहीं रोक पा रहे थे और उनकी आंखें भी नम हो जा रहीं थीं।

हर कोई मेजर विकास के मिलनसार व्यवहार को याद कर गमगीन हो जा रहा था। जिलाधिकारी के बाला जी ने एक-एक परिजनों से मिले। शहीद के सम्मान में कहीं कोई कमी न रह इसलिए हर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और अपने मातहतों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। इनके साथ जमानियां एसडीएम रमेश मौर्या व सीओ कुल भूषण ओझा सहित, सुहवल, गहमर, जमानियां, रेवतीपुर थानाध्यक्ष अपने हमराहियों संग मौजूद रहे।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!