भागलपुर कैरियर प्वाइंट की ओर से सीपी स्टार प्रतियोगिता परीक्षा का होगा आयोजन

इस समाचार को शेयर करें

भागलपुर। कैरियर प्वाइंट, भागलपुर शिक्षा के क्षेत्र में जाना-माना नाम है। छात्र-छात्राओं की शैक्षणिक जरूरतों के हिसाब से कई सकारात्मक प्रयोगों के जरिए इस संस्थान ने उनकी राह आसान की है। यही वजह है कि मेघावी छात्र-छात्राओं की यह संस्थान पहली पसंद है। हर वर्ष की भांति इस बार भी कॅरियर प्वाइंट भागलपुर 8वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए बेहद सुनहरा अवसर लेकर आया है। मौका है कॅरियर प्वाइंट द्वारा आयोजित की जाने वाली सीपी स्टार 2019 (Career Point Scholastic Test for Analysis and Reward)  की परीक्षा का जिसके जरिए बच्चे 25 हजार रुपए तक की  पुरस्कार राशि और स्कॉलरशिप में 90 हजार रुपए तक का डिस्काउंट वाउचर जीत सकते हैं। कॅरियर प्वाइंट भागलपुर के निदेशक डाॅ. मधुरेन्द्र कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि कॅरियर प्वाइंट भागलपुर 8वीं से लेकर 12वीं तक के छात्रों के लिए 22 सितम्बर, 13 अक्टूबर एवं 10 नवम्बर  को ‘सीपी स्टार’ एप्टीटयूड टेस्ट का आयोजन करेगा। डॉ. मधुरेन्द्र ने बताया कि इससे पूर्वी बिहार की छिपी हुई प्रतिभाओं को राष्ट्रीय स्तर पर अपना टैलेंट दिखाने का मौका मिलेगा इसके लिए करियर प्वाइंट सीपी स्टार स्कॉलरशिप परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा के जरिए इस क्षेत्र की छात्र-छात्राएं अपना टैलेंट देश के सामने दिखाकर 25 हजार तक का नगद इनाम पा सकते हैं। इस दौरान कॅरियर प्वाइंट भागलपुर के निदेशक डाॅ. मधुरेन्द्र कुमार ने ‘सीपी स्टार’ का पोस्टर लांच किया। लॉन्चिंग के समय व्यास नंद, सुमन कुमार, कमलेश कौशल, अमृत कुमार झा एवं सुशांत भी मौजूद थे।करियर प्वाइंट भागलपुर के डायरेक्टर डॉ मधुरेन्द्र कुमार ने सीपी स्टार के बारे में बताते हुए कहा कि इस परीक्षा को देकर मेधावी और आर्थिक रूप से कमजोर छात्र बहुत फायदा उठा सकते हैं क्योंकि स्कॉलरशिप के रूप में 90 हजार तक का डिस्काउंट वाउचर दिया जाएगा जिसका लाभ वो अपने रेगुलर कोर्स में ले पायेंगे। करियर प्वाइंट द्वारा शुरू किये गए सीपी टेस्ट परीक्षा में पिछ्ले 7 सालों में अब तक 9.5 लाख छात्रों ने हिस्सा लिया है। परीक्षा के प्रारूप के बारे में उन्होंने बताया कि सीपी स्टार एप्टीट्यूड टेस्ट है, जिसमें दो राउंड की परीक्षा होगी। पहले राउंड की परीक्षा की अवधि एक घंटे की होगी और दूसरे राउंड की परीक्षा की अवधि 2.5 घंटे की होगी। दोनों राउंड की परीक्षा ओएमआर बेस्ड होगी। प्रथम राउंड में 8वीं से 10वीं के  छात्रों से कुल 50 प्रश्न पूछे जाएंगे जिसमें विज्ञान से 24 गणित से 16 एवं  मेंटल एबिलिटी से 10 सवाल होंगे जबकि 11वीं एवं 12वीं (गणित) के बच्चों से कुल 50 प्रश्न पूछे जाएंगे जिसमें भौतिक एवं रसायन विज्ञान से 16-16 एवं गणित से 18 सवाल होंगे तथा 11वीं एवं 12वीं (जीव विज्ञान) के बच्चों से कुल 60 प्रश्न पूछे जाएंगे जिसमें भौतिक एवं रसायन विज्ञान से 16-16 एवं जीव विज्ञान से 28 सवाल पूछे जाएंगे । प्रथम राउंड में चयनित छात्रों को दूसरे राउंड में शामिल होने का मौका मिलेगा । पहले राउंड की परीक्षा 22 सितम्बर, 13 अक्टूबर एवं 10 नवंबर को तथा दूसरे राउंड की परीक्षा 8 दिसंबर को होगी ।  इस संस्थान में छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग आवासन की सुविधा भी उपलब्ध है ताकि दूर-दराज के छात्र भी यहां रहकर शिक्षा हासिल कर सकें और अपने सपनों को उड़ान दें सकें. डॉ मधुरेंद्र कुमार का यह लक्ष्य है कि पूर्व बिहार में यह संस्थान आदर्श संस्थान के रूप में जाना जाए.

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!