कोरोना से निबटने में सरकार का साथ देंगे स्वास्थ्य कार्यकर्ता

इस समाचार को शेयर करें

•प्रशिक्षित सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की सेवा ले सरकार

•समिति के जिलाध्यक्ष ने सीएम को ईमेल भेजा

छपरा। ग्रामीण चिकित्सा सेवा समन्वय समिति कोरोना से निबटने में सरकार को सहयोग करने की बात कही है। समिति के जिला अध्यक्ष डॉ आनन्द कुमार तिवारी व मांझी प्रखंड के अध्यक्ष डॉ शशि कुमार सुमन ने राज्य सरकार को इस बारे में ईमेल किया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना जैसी भयानक महामारी से निपटने के लिए पंचायत स्तर पर राज्य सरकार प्रशिक्षित सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सेवा में ले । जिलाध्यक्ष ने कहा है कि जब तक गांव सुरक्षित नहीं होगा तब तक हमारा प्रदेश सुरक्षित नहीं होगा। क्योंकि आज भी गांव के लोगो में जागरूकता की कमी है । साफ सफाई के प्रति आज भी लोग जागरूक नहीं है । गांव देहात में बाहर से आने वाले प्रवासियों का सही आंकड़ा सरकार के पास नहीं पहुंच रही है । ऐसे में इस महामारी को रोकने में राज्य सरकार कैसे सफल होगी। मालूम हो कि राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार व एनआईओएस के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित समुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों व रेफरल अस्पतालों में ग्रामीण चिकित्सकों को एक वर्षीय प्रशिक्षण देकर राज्य सरकार ने परीक्षा लिया। परीक्षा में पास हुए ग्रामीण सोलह हजार ग्रामीण चिकित्सकों को राज्य सरकार ने सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता का दर्जा दिया है ।मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने यह वादा भी किया था कि राज्य सरकार जरूरत पड़ने पर सेवा में लेगी । लेकिन ग्रामीण इलाकों में इस महामारी से निपटने के लिए सरकार ने शिक्षकों व जीविका दीदियों को सेवा में लगाने का फैसला किया है जिन्हें कोई स्वास्थ्य संबंधी प्रशिक्षण नहीं दिया गया है । ऐसे में महामारी फैलने से रोकने में सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को अगर सरकार जिम्मेदारी देती है तो काफ़ी हद तक इस महामारी को रोकने में सफल होंगे।

Ranjit Kumar

Ranjit Kumar

Digital Media Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!