छपरा जंक्शन पर आजमगढ़ कोलकाता एक्सप्रेस ट्रेन से 120 कछुआ बरामद

इस समाचार को शेयर करें

छपरा : पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन पर राजकीय रेलवे पुलिस ने शराब तस्करों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के दौरान आजमगढ़ कोलकाता एक्सप्रेस ट्रेन से लावारिस हालत में 120 कछुआ मंगलवार को दिन में बरामद की। रेल थानाध्यक्ष सुमन प्रसाद सिंह ने बताया कि इस मामले में अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और बरामद कछुआ को वन विभाग को सौंप दिया गया है । थानाध्यक्ष के मुताबिक तस्करों के द्वारा उत्तर प्रदेश से कछुआ की तस्करी और पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा था। इसकी छानबीन की जा रही है। इसके पहले भी छपरा जंक्शन पर कई बार तस्करी कर ले जाए जा रहे कछुआ को बरामद किया गया है। अब तक मुख्य रूप से बलिया सियालदह एक्सप्रेस, बाघ एक्सप्रेस, आजमगढ़ कोलकाता एक्सप्रेस तथा पूर्वांचल एक्सप्रेस ट्रेन से ही सबसे अधिक कछुआ बरामद किया गया है। यह सभी ट्रेनें उत्तर प्रदेश से पश्चिम बंगाल जाती है । पूर्वी उत्तर प्रदेश तथा उत्तर बिहार के इलाकों में कछुआ आसानी से खेतों व चंवर में पाए जाते हैं, जिन्हें स्थानीय लोगों के द्वारा पकड़ कर तस्करों को सस्ते दामों पर बेचा जाता है और तस्कर उसे पश्चिम बंगाल, असम में ले जाकर उंचे दामों पर बेचते हैं। पुलिस का ऐसा मानना है कि पश्चिम बंगाल तथा असम में कछुआ को औषधि बनाने तथा तंत्र मंत्र के लिए तस्करी कर ले जाया जाता है। मुख्य रूप से कछुआ का उपयोग दवा बनाने के लिए किया जाता है। उन्होंने बताया कि बरामद कछुआ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत संरक्षित है। इस अधिनियम के तहत कछुआ को पकड़ने मारने, एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाने या घर में रखना दंडनीय अपराध है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!