बिहार के विकास के बिना समृद्ध भारत का निर्माण संभव नहीं:धमेन्द्र प्रधान

Facebook
Google+
http://sanjeevanisamachar.com/without-the-development-of-bihar-the-creation-of-a-prosperous-india-is-not-possible-dharmendra-pradhan/
Twitter

छपरा।पेट्रोलियम सह कौशल विकास एवं उद्यमिता विभाग के मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि बिहार के विकास के बिना समृद्ध भारत का निर्माण संभव नहीं है।बिहार के विकास को लेकर केंद्र एवं राज्य सरकार साथ मिलकर युवाओं को रोजगार व स्वरोजगार देने का काम कर रही है।श्री प्रधान शहर के राजेंद्र स्टेडियम में आयोजित दो दिवसीय रोजगार मेला सह कौशल प्रदर्शनी के समापन समारोह में सबोधित कर रहे थे।उन्होंने कहा कि दोनों सरकारों के सामंजस्यता से युवाओं को प्रशिक्षित कर रोजगार, स्व- रोजगार देने का कार्य किया जा रहा है।भारत में प्रतिवर्ष एक करोड़ युवाओं को प्रशिक्षण की जरूरत है।जिसके लिए विभाग प्रयासरत है। यह बात अलग है कि शैक्षणिक व्यवस्था में प्रशिक्षण नहीं है। जिसके लिए भी सरकार प्रयासरत है।उन्होंने ने कहा कि रूडी के कारण ही सभी प्रशिक्षण संस्थान एक छत के नीचे लाया जा सका है।श्री प्रधान ने पूर्व मंत्री सह स्थानीय सांसद के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व के कारण ही ढाई वर्षों में सभी प्रशिक्षण आज एक छत के नीचे हैं।

14 करोड़ से होगा मढ़ौरा में आईटीआई का निर्माण
मंत्री ने कहा कि सारण के मढ़ौरा में आइटीआई की चर्चा करते हुए कहा कि मढ़ौरा में 14 करोड रुपए की लागत से नए आइटीआई का निर्माण किया जाएगा।राज्य और केंद्र सरकार के सहयोग से इंटरनेट ऑफ द थिंक के आधार पर आई टी आई की स्थापना होगी।

कागज और फाइलों में नहीं चलेगा आईटीआई
श्री प्रधान ने राज्य में संचालित आइटीआई में गुणवत्तापूर्ण शिक्षण देने का आह्वान आइटीआई संचालकों से किया। साथ ही इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार को सौंपते हुए कहा कि वह इस पर निगरानी रखें।श्री प्रधान ने स्पष्ट रुप से कहा कि आइटीआई खुले लेकिन उनमें न्यूनतम मानक उपलब्ध हो। अच्छे शिक्षक, अच्छे संसाधन से युवाओ को बेहतर प्रशिक्षण मिलेगा। जिससे वह आत्मनिर्भर बनेंगे।किसी भी सूरत में आइटीआई अब कागज और फाइलों में नहीं चलेगा।देश की आबादी में 65 करोड़ आबादी 35 साल से नीचे के लोगों की है। जिनके लिए 3 माह, छह माह और 1 वर्ष का प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाया जा सके।

दो करोड़ लोगों को मिला 4 लाख का लोन
श्री प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री की मुद्रा योजना के तहत अब तक दो करोड़ लोगों को चार लाख का लोन दिया गया है। वहीं स्टैंड अप योजना के तहत अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति महिलाओं को रोजगार के लिए 10 लाख से एक करोड़ तक का लोन दिया जा रहा है। जिससे कि देश में नौकरी लेने की नहीं बल्कि स्वरोजगार स्थापित कर रोजगार देने की स्थिति बनेगी।उन्होंने कहा कि प्रमंडल से लेकर जिला स्तर पर रोजगार मेले का आयोजन समय समय पर किया जाएगा।

छपरा में खुलेगा पासपोर्ट केंद्र
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सारण के लोगों को पासपोर्ट बनाने के लिए पटना का चक्कर नहीं लगाना होगा। उन्होंने अपनी जापान यात्रा के अनुभव को साझा करते हुए कहा कि जापान में हर क्षेत्र में हुनरमंद की कमी है।बिहार के लोग विश्व के सभी देशों में अपनी श्रमिक क्षमता का प्रदर्शन कर रहे हैं। स्किल इंडिया द्वारा युवाओं को हुनरमंद बनाया जा रहा है। उन्हें यही जापानी भाषा भी सिखाई जाएगी और यही सारण में पासपोर्ट बनाया जाएगा। जिससे वह दूर देशों में जाकर भी रोजगार हासिल कर सके।यह जिम्मेदारी सरकार की बनती है और सरकार इस कार्य को कर रही है।

उज्ज्वला योजना के बाद सारण के 4 लाख घरो में एलपीजी
पेट्रोलियम पदार्थों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार में पूर्व के वर्षों में 100 में से 25 घरों में एलपीजी उपलब्धता थी। प्रदेश के 51 लाख घरों में गैस चूल्हा पर खाना बनता था। सारण में इसकी संख्या ढाई लाख थी लेकिन प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत वर्तमान समय में सारण के चार लाख घरों में एलपीजी पर खाना बनाया जा रहा है। प्रदेश में 1098 गैस वितरकों की संख्या बढ़ाकर 2000 से अधिक करने की तैयारी चल रही है।श्री प्रधान ने जनमानस से सरकारी योजनाओं का लाभ लेने एवं स्वयं को हुनरमंद बनाकर रोजगार हासिल करने का आह्वान किया।इस अवसर पर श्रम मंत्री विजय कुमार सिन्हा, छपरा विधायक डॉ सी एन गुप्ता, जदयू नेता शैलेन्द्र प्रताप सिंह,अमनौर विधायक शत्रुधन तिवारी उर्फ चोकर बाबा, कृष्णा कुमार उर्फ मंटू सिंह, बीजेपी जिलाध्यक्ष रमेश प्रसाद, जदयू जिलाध्यक्ष अल्ताफ़ आलम राजू, जिला परिषद अध्यक्ष मीना अरुण,श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव दीपक सिंह ,सचिदानंद राय, जिलाधिकारी हरिहर प्रसाद, एसपी हर किशोर राय उपस्थित थे।

Facebook
Google+
http://sanjeevanisamachar.com/without-the-development-of-bihar-the-creation-of-a-prosperous-india-is-not-possible-dharmendra-pradhan/
Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: Content is protected !!