बिहार के विधि सचिव सुरेन्द्र शर्मा का असामयिक निधन, सारण में शोक की लहर 

Spread the love

Chhapra Desk: बिहार के विधि सचिव सुरेन्द्र प्रसाद शर्मा की असामयिक निधन की खबर सुनते ही क्षेत्र मे शोक की लहर दौड़ गयी ।पटना से सोनपुर गोविन्दचक उनके आवास पर शव पहुंचते ही अन्तिम दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। नम आंखो से लोगों ने अन्तिम विदाई दी। शुभ चिंतको से लेकर ग्रामीणों तक लोगो से यह पूछते रहे कि यह कैसे हो गया। वे मूलत:सारण जिले के सोनपुर प्रखंड अंतर्गत गोविन्दचक के निवासी थे।बुधवार को उनका अंतिम संस्कार पहलेजा घाट धाम पर किया गया। उनके पुत्र अभिषेक कुमार ने मुखाग्नि दी। अन्तिम संस्कार के अवसर विहार सरकार के मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा,  विधायक डॉ रामानुज प्रसाद, हरिहर नाथ मंदिर न्यास समिति के सचिव विजय कुमार सिंह लल्ला, अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष ओम कुमार सिंह, अधिवक्ता विश्वनाथ सिंह, शशि भूषण सिह, भाजपा राज्य परिषद सदस्य राकेश कुमार सिंह सहित स्थानीय पुलिस प्रशासन के साथ-साथ बड़ी संख्या मे लोग मौजूद थे। लोगो का कहना है कि चेहरे पर हमेशा मुस्कान लिए वे लोगो से बाते किया करते थे। वे न्यायिक सेवा के वरीय पदाधिकारी के साथ-साथ विधानसभा के सचिव भी रहे।धार्मिक न्यास के प्रशासक भी रहे। वे कुशल, ईमानदार के साथ साथ कर्मठ व्यक्ति थे।उनके पिता गौरीशंकर शर्मा राजेंद्र कालेज मे प्रोफेसर थे।इनके पिता का कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़ाव था। गांव के लोगो का कहना है कि वे लगभग 60 वर्ष के थे।पूरी सादगीपूर्ण जीवन व्यतीत करते थे। उनका तबीयत अचानक 26 अप्रैल को खराब हुआ,जिसके बाद तत्काल बेहतर ईलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया।डाक्टरो ने कहा कि ब्रेन हैमरेज है। काफी प्रयास के बावजूद उन्हे नही बचाया जा सका और मंगलवार को ही पटना मे निधन हो गया।निधन की खबर कांग्रेस सेवादल के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह, सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रांतीय अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह, भाजपा के धनंजय सिंह, अशोक कुमार सिंह, नरेंद्र सिंह, जदयू के बिनोद सिंह, राजद के प्रमोद यादव ने शोक प्रकट किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!