अब राम ही करेंगें बीजेपी की नैया पार !

Spread the love

संजय सिंह, वरिष्ठ पत्रकार 

उपचुनाव में बीजेपी की लगातार हार हो रही है। पंजाब, दिल्ली,राजस्थान, मध्यप्रदेश में पिछले दिनों हुए उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली थी लेकिन अब उसे बिहार के साथ साथ उत्तरप्रदेश में भी करारी शिकस्त मिल गई। गोरखपुर व फूलपुर में बीजेपी को मिली हार उसके लिए खतरे की घँटी है। गोरखपुर व फूलपुर की हार को साधारण नहीं माना जा सकता। गोरखपुर की पहचान योगी आदित्यनाथ से भी है। उनका इस सीट पर करीब 25 साल से कब्जा था। उससे पहले हिन्दू महासभा ने यहाँ का प्रतिनिधित्व किया था। भगवा ध्वज फहराने वाले योगी आदित्यनाथ पार्टी के अब पोस्टर बॉय बन गए हैं। 2014 के मोदी लहर में योगी आदित्यनाथ को 50 फीसदी से ज्यादा वोट मिले थे लेकिन उपचुनाव में बीजेपी को 27 फीसदी के ही करीब वोट मिले हैं। मोदी के चार साल तथा योगी के एक साल के कार्यकाल के अंदर ही ऐसा क्या हो गया कि फूलपुर के साथ साथ गोरखपुर की जनता का भी बीजेपी से मोहभंग हो गया। यहाँ की जनता ने मोदी व योगी, दोनों को साफ संदेश दिया है। उत्तर प्रदेश के उपचुनाव पर सबकी नजर थी। क्योंकि यहीं से दिल्ली का रास्ता तय होता है। जो फिलहाल बीजेपी के लिए कठिन लग रहा है। बीजेपी इस बड़ी हार को यह कहकर छोटी दिखाने की कोशिश करेगी कि सपा बसपा ने जात पात की राजनीति की और मैंने विकास के नाम व काम पर वोट मांगा। परन्तु बीजेपी की यह बात आसानी से गले उतरने वाली नहीं है क्योंकि सपा बसपा ने 2014 में भी जातपात की ही राजनीति की थी और आज भी कर रही है। इन दोनों पार्टियों की राजनीति करने के तौर तरीकों में बड़ा बदलाव नहीं आया है। वे पहले से ही ऐसी राजनीति करते आ रही हैं। अब सोचना बीजेपी को है कि आखिर जनता का उससे मोहभंग हो क्यों रहा है। अच्छे दिन, शायनिग इंडिया की तरह जनता को लगने लगा है। अगर सरकार ने अपनी चमक दमक तथा दिखावे वाली कार्यशैली व बीजेपी नेताओं ने अपनी दंभ भरी बोली में सुधार नहीं किया तो तय मानिये जनता जरूर सुधार देगी। वैसे बीजेपी के पास बहुत वक्त भी नहीं है। खासकर, सपा बसपा के अप्रत्याशित रूप से एक हो जाने के बाद। अब उसके पास इस गठजोड़ से मुकाबला करने के लिए जय श्री राम का ही सहारा दिखाई दे रहा है। मतलब साफ है अब राम ही करेंगें नैया पार !

संजय सिंह, वरिष्ठ पत्रकार, दैनिक भास्कर

नोट: यह लेखक के निजी विचार है। लेखक दैनिक भास्कर छपरा कार्यालय में कार्यरत है। 

Ganpat Aryan

Web Media Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!