शंटिग ट्रैक पर इंजन व यूटीवी टक्कर मामले में मंडल रेल प्रबंधक ने दिया जांच का आदेश

Facebook
Google+
http://sanjeevanisamachar.com/mandal-rail-manager-ordered-in-the-engine-and-utv-collision-case-on-the-shuntig-track/
Twitter

छपरा (S.S DESK)। पूर्व मध्य रेलवे के सोनपुर स्टेशन पर हुयी दुर्घटना के मामले में दोषी रेल कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गयी है । मंडल रेल प्रबंधक ने इस मामले में जांच का आदेश दिया है और तीन सदस्यीय जांच दल का गठन किया है जिसमें शंटिग ट्रैक पर इंजन व यूटीवी टक्कर मामले में जांच करने को कहा गया है । बताते चलें कि शनिवार को डाउन बलिया-सियालदह एक्सप्रेस का डीजल इंजन बदल कर इलेक्ट्रिक इंजन जोड़े जाने के दौरान दुर्घटना हुयी थी । इंजन को अलग कर शंटिंग लाईन पर ले जाया जा रहा था । इसी दौरान पहले से खड़ी ट्रेन में डीजल इंजन ने ठोकर मार दी । इस मामले में डीजल इंजन के सहायक लोको पायलट तथा काटा वाला के लापरवाही की बात सामने आयी है । इस दुर्घटना में कोई हताहत नहीं हुआ । पहले से खड़ी लाईन नंबर आठ पर यूटीवी के चालक और सहायक को धक्के के कारण मामूली चोटे आयी । लाइन नंबर आठ पर पहले से खड़ी मेंटेनेंस इंजन यूटीवी 1031 के चालक और सहायक ने बताया कि हम लोग अपनी आंखो से डीजल इंजन को लाईन नंबर आठ पर आते देखा । लेकिन यह विश्वास नहीं था कि डीजल इंजन के चालक तथा काटा वाले गाड़ी को नही रोकेंगे. गाड़ी के रफ्तार के साथ नजदीक आते देख हम लोगो को अनुमान हो गया कि डीजल इंजन अब रूकने वाली नही है और हमलोग अपने गाड़ी से कूद गये, जिसके कारण चोटे आयी. रेल सूत्रो के अनुसार इस घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है. रिपोर्ट आते ही उक्त इंजन के चालक तथा संटींग कराने वाले काटा वाले के विरूद्ध विभागीय कार्रवाई किया जा सकता है. शनिवार और रविवार को कार्यालय बंद होने के कारण विभागीय कार्रवाई मे विलंब हो रहा है. बताते चले कि शनिवार को सोनपुर के प्लेटफॉर्म संख्या एक पर डाउन बलिया-सियालदह एक्सप्रेस 12 बजकर 10 मिनट पर पहुंची थी. रोज की तरह उस दिन भी इसका डीजल इंजन हटा कर इलेक्ट्रिक इंजन जोड़ा जा रहा था, इसी के लिये संटींग करा कर इसे आठ नंबर लाइन से लाया जा रहा था. उधर पहले से ही इस लाइन पर स्लीपर लादे मुगलसराय की यूटीवी गाड़ी खड़ी थी. इसी बीच तेज रफ्तार से आ रहे बलिया-सियालदह के इंजन ने इस में ठोकर मार दी. घटना में उक्त यूटीवी के चालक शहनाज हुसैन तथा सहायक चालक अवध किशोर को चोटे आयी. यह घटना लगभग 12 बजकर 25 मिनट पर हुई. घटना में यूटीवी का माउंटेन, कपलर, फर्स, स्पीडो मीटर तथा रेडियेटर टूट गया. यूटीवी के चालक शाहनवाज ने बताया उसे रेक पर लदे स्लीपर को लेकर हाजीपुर जाना था. इसी के लिए उसे लाईन नंबर आठ पर रखा गया था और स्टेशन मास्टर का संदेश था कि पूरब की ओर लगे संटींग सिग्नल से दस बारह मीटर अलग रखना है. वह यूटीवी को उक्त स्थल पर खड़ा कर सिग्नल की प्रतीक्षा कर रहा था. इसी बीच पूर्व दिशा की ओर से डीजल इंजन आ रही थी, जिसमें डीजल इंजन के चालक तथा काटा वाला दोनो इंजन के पीछे थे. इसी कारण खड़ी गाड़ी को संभवत नहीं देखा. डीजल इंजन के सहायक लोको पायलट तथा काटा वाला इंजन के आगे वाले सीट पर बैठे होते तो यह घटना संभवत नहीं होती. रेल प्रशासन इस घटना को गंभीरता से लिया है. वही दूसरी ओर लगातार हो रही दुर्घटनाओं ने रेल प्रशासन के व्यवस्था के कमीयो तथा रेल कर्मियों की लापरवाही को उजागर किया है. इस संबंध में सोनपुर मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक इस मामले को गंभीरता से लिया गया है. डीजल इंजन के सहायक लोको पायलट कुमार कौशलेंद्र तथा काटा वाला भरत पांडेय को चार्जशीट जारी किया जा रहा है. घटना में डीजल इंजन के सहायक लोको पायलट कुमार कौशलेंद्र तथा काटा वाला भरत पांडेय के घायल होने की सूचना नही है. इस घटना मे लापरवाही बरतने वाले रेल कर्मियों पर सख्त कार्रवाई की जायेगी. 

Facebook
Google+
http://sanjeevanisamachar.com/mandal-rail-manager-ordered-in-the-engine-and-utv-collision-case-on-the-shuntig-track/
Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: Content is protected !!