प्रेम प्रसंग में गला दबा कर युवक की हत्या, पुलिस आत्महत्या की जता रही है आशंका 

Spread the love

छपरा। सारण जिले के  खैरा थाना क्षेत्र के हरिहर कनार गांव में प्रेम प्रसंग में एक युवक की हत्या कर दी गयी . घटना सोमवार की रात की है. मृतक के परिजनों ने हत्या के मामले में परिजनों को आरोपित किया है . गांव में उस समय हड़कंप मच गया, जब लोगों ने अलसुबह सड़क पर एक युवक की लाश देखी.इस घटना के बाद इलाके के लोगों की भीड़ जमा हो गयी .घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दी और मामले की जांच शुरू कर दी . जांच में प्रथम दृष्टया यह बात सामने आयी है कि यह घटना आत्महत्या भी हो सकती है लेकिन यह अबुझ पहेली बना हुआ है कि अगर युवक ने खुद सुसाइड किया है तो ,घर में शव  होना चाहिए लेकिन शव सड़क पर है और  शव सड़क पर कैसे पहुंची. फिलहाल यह बात स्पष्ट हो गया है कि युवक का एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था . यह मामला खैरा थाना क्षेत्र के हरिहरपुर कनार गांव की है . युवक विवाहित था और वह अपनी फुआ के घर पर रहकर पूजारी का कार्य करता था . इस घटना के बाद परिवार में मातम छाया हुआ है. युवक के परिजनों ने बताया कि प्रेम प्रसंग को लेकर लडक़ी के घरवालों ने उसकी हत्या कर दी है . हालांकि पुलिस ने जांच के दौरान युवक के कमरे से एक  सुसाइड नोट बरामद की है. जिसकी जांच पुलिस कर रही है .पुलिस ने मृतक की बुआ देवझड़ी देवी के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली है. हरिहरपुर कनार निवासी शिवनाथ पांडेय की पत्नी देवझड़ी देवी ने कोपा थाना क्षेत्र के जुगल किशोर तिवारी के पुत्र एवं अपने भतीजे  विकास तिवारी को तीन वर्ष की उम्र से ही गोद ले रखी थी. कारण कि उन्हें कोई संतान नही थी. तब से लेकर  उसकी परवरिश एवं पढ़ाई लिखाई से लेकर शादी विवाह तक विकास की फुआ देवझड़ी देवी ने की एव शिवनाथ पांडेय उसे अपने बेटे की तरह बुढ़ापे का सहारा बनाया था. परंतु किस्मत को नागवार गुजरा . दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि पड़ोस के ही मदन मिश्रा की लड़की से उनके भतीजे विकास का प्रेम प्रसंग चलता था . दोनों छुप-छुपकर एक दूसरे से बाते करते थे, जिसके लिये मदन मिश्रा के परिवार वालों ने कई बार विकास को धमकी भी दी थी . प्राथमिकी में कहा गया है कि मदन मिश्रा ने अपनी पत्नी मीना देवी एवं तीन बेटों के साथ  मिलकर उनके भतीजे की हत्या की है. पांच लोगों को नामजद किया है जिसमे मदन मिश्र एवं लड़के अमित, रंजन, सुमित तथा मदन मिश्रा की पत्नी मीना देवी है.

देवझड़ी का दत्तक पुत्र था विकास

विकाश के बुआ को कोई संतान नही थी .इसलिए उसकी बुआ ने बचपन में ही उसे पुत्र के रूप में गोद ली थी. इस बुढ़ापे में विकास की मौत के  बाद अचानक  फुआ- फूफा का रो- रो कर बुरा हाल है. फुआ का कहना है कि अब हम केकरा सहारा जीयब हो,रोते -रोते, बार- बार बहोश हो जा रही थी. इस बुढ़ापे में कोई सहारा नहीं है , एक सहारा भी था तो, उसे भी मार दिया.

युवक के कमरे से मिला सुसाइड नोट 

पुलिस द्वारा जांच के क्रम में मृतक विकास के कमरे से तीन पन्नो में लिखा एक सुसाइड नोट बरामद किया गया है  जिसमे उसने अपनी आत्म-हत्या करने की बात लिखी है, उसने तीन पन्नो वाली सुसाइड नोट में लिखा है कि वो प्रेम प्रसंग में अपनी आत्म हत्या कर रहा है,क्योकि वह जिस लड़की से प्यार करता है. उसके परिजन कभी उससे उनकी शादी नहीं करने देंगे.  वह उस लड़की के बिना जी नही सकता. उसने नोट में लिखा है कि वो अपनी हत्या का खुद जिम्मेवार है. यदि किसी को आत्म हत्या पर शक हो तो, सुसाइड नोट के पास रखी मेमोरी की जाँच कर ले , मैं  उसमें सभी बात रिकॉर्ड किया हूं, जिसमें उसने अपनी आवाज में इस बात की रिकॉर्डिंग भी की है. उसने सभी बात लिखा है जिससे वो भी अपना उधार बाकी खर्च लिया है या रिचार्ज करवाया है. पुलिस जब जांच करने उसके कमरे में गयी तो, युवक के कमरे से पुलिस को सुसाइड नोट के साथ ही मृतक के बिछावन के नीचे से अंग्रेजी शराब की तीन खाली बोतले मिली. हालांकि पुलिस सुसाइड नोट की सत्यता की जांच कर रही है.

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष

विकास तिवारी की फुआ देवझड़ी देवी के बयान पर पांच लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है और मामले की जांच की जा रही है. नामजद आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. प्रेम -प्रसंग में हत्या का आरोप परिजनो द्वारा लगाया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर मौत के कारण का पता चल पाएगा. सभी बिंदुओं पर जाँच की जा रही है.

संतोष कुमार 
थानाध्यक्ष 
खैरा

Ganpat Aryan

Web Media Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!