सारण में पुलिस वाला बनकर किशोरी का किया कीडनैप, फिर चार लोगों ने किया गैंग रेप

Spread the love

छपरा।सारण जिल के गड़खा में हुए गैंगरेप के आरोपितों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा और शीघ्र सजा दिलाया जाएगा। उक्त बातें पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में गुरुवार को कही। उन्होंने कहा कि मंगलवार की सुबह में महुआ चुन रही एक किशोरी का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म किया गया। सभी आरोपित अज्ञात थे, जिन्हें पीड़िता के द्वारा दी गयी जानकारी के आधार पर गिरफ्तार किया गया । उन्होंने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद सदर एसडीपीओ के नेतृत्व में स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया गया । गठित टीम ने त्वरित कार्रवाई की और चार आरोपितों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की । उन्होंने बताया कि टीम में एसआइटी के पुअनि मिथिलेश कुमार साह, प्रवीण कुमार, गड़खा थानाध्यक्ष गौरीशंकर बैठा, पुअनि आनंद कुमार शामिल थे। उन्होंने बताया कि इस मामले में नगरा ओपी क्षेत्र के बंगरा बसवारी टोला निवासी नीरज कुमार, इंदिल कुमार उर्फ चंदन, अमरजीत कुमार तथा कादीपुर गांव के अमन अंसारी को गिरफ्तार किया गया है और गिरफ्तार चारों आरोपितों की मेडिकल जांच कराया गया । उन्होंने बताया कि अमरजीत तथा नीरज का वह अंडर गारमेंटस भी बरामद किया गया है, जो गैंगरेप के दौरान पहने हुए थे। उन्होंने बताया कि पीड़िता तथा आरोपितों के कपड़े की जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जा रहा है । उन्होंने कहा कि आरोपितों के ठोस साक्ष्य है जिसके आधार पर स्पीडी ट्रायल चलाने के लिए न्यायालय से अनुरोध किया जाएगा । उन्होंने कहा कि इस मामले में पोस्को एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी । उन्होंने बताया कि किशोरी की मेडिकल जांच कराया जा चुका है और इस मामले में एक आरोपित फरार है जिसको गिरफ्तार करने के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है । उन्होंने बताया कि किशोरी का अपहरण उस समय कर लिया गया, जब वह अपनी मां व एक पड़ोसी महिला के साथ महुआ चुन रही थी।किशोरी का अपहरण कर लिया और बोलेरो से पकवा इनार के पास ले जाकर दुष्कर्म किया।

पुलिस वाला बन कर किया अपहरण

किशोरी का यह कहकर अपहरण कर लिया गया कि तुम शराब बनाने के लिए महुआ चुन रही है । चलो साहब बुला रहे हैं । पुलिस समझ कर किशोरी बोलेरो के पास गयी । वहां पहुंचते ही, उसे जबरन बोलेरो में बैठा लिया गया। उसकी मां व पड़ोस की महिला ने अपहरण का विरोध किया तो, आरोपितों ने दोनों महिलाओं की पिटाई भी की। भयभीत होकर महिलाओं ने बगल में स्थित पंचायत के मुखिया को  घटना की सूचना दी । मुखिया ने तुरंत पुलिस अधीक्षक को घटना की जानकारी दी । इस पर पुलिस अधीक्षक ने गड़खा समेत कई थानों को एलर्ट कर दिया । अपहरण के बाद वहां से पकवा इनार के पास किशोरी को ले जाया गया । वहां ले जाने के बाद बोलेरो में ही उसके साथ दुष्कर्म किया गया। बोलेरो में पांच लोग सवार थे। बोलेरो को सड़क से हटकर सुनसान जगह पर रोक दिया गया और इस घटना को अंजाम दिया गया।

पुलिस की तत्परता से बची किशोरी की जान

अपहरण की सूचना के बाद कई थानों की पुलिस सक्रिय हो गयी जिसके कारण किशोरी के साथ दुष्कर्म करने के बाद आरोपित फरार हो गये । पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अगर पुलिस सक्रिय नहीं होती तो, किशोरी की हत्या भी कर दिये जाने की आशंका थी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार चारों आरोपित अपराधी किस्म के हैं जो रात में वाहन से घूम घूम कर बकरा- बकरी की चोरी करते थे । मुफस्सिल थाना क्षेत्र से तीन बकरियों की चोरी उस घटना के पहले रात में अपराधियों ने किया था। बकरी चोरी कर जाने के क्रम में ही अपराधियों ने किशोरी को देखा तो, दुष्कर्म करने की योजना बनायी और अंजाम दे डाला। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मंगलवार को अलसुबह हुयी घटना का उदभेद्दन करना व दुष्कर्म के आरोपितों को गिरफ्तार करना पुलिस के लिए महत्वपूर्ण चुनौती बन गयी। उन्होंने बताया कि स्पेशल टास्क फोर्स ने 24 घंटे के अंदर आरोपितों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Close
error: Content is protected !!