छात्र ने पेशेवर अपराधी की तरह मारा चाकू, एक ही वार में हो क्लर्क की हो गयी मौत

Spread the love

CHHAPRA DESK: राजेन्द्र कालेज के लिपिक शिवविनय राय की हत्या से कर्मचारी- पदाधिकारी स्तब्ध हैं।केवल राजेन्द्र कालेज ही नहीं, बल्कि शहर के सभी काॅलेजो के शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारी काफी मर्माहत व आक्रोशित हैं।घटना के तुरंत बाद सभी काॅलेजो में काम काज ठप कर दिया गया ।सभी शिक्षकेत्तर कर्मचारी व कालेज के शिक्षक अस्पताल पहुंच गये । अस्पताल में करीब तीन घंटे तक गहमा गहमी का माहौल बना रहा ।घायल शिवविनय राय की हत्या से आक्रोशित शिक्षकों व शिक्षकेत्तर कर्मचारियों ने कुछ देर के लिए अस्पताल के पास सड़क भी जाम कर दिया लेकिन पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने तुरंत पहुंच कर सड़क जाम कर रहे लोगों को समझा बुझा कर शांत कराया और सड़क जाम हटवा दिया। 

एसपी ने की घटना की जांच

पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने घटना के बारे में अस्पताल में मौजूद कर्मचारियों व पदाधिकारियों से घटना के बारे में सबसे पहले जानकारी ली। उन्होंने मृतक के भाई से भी पूछ ताछ की । घटना के समय मौजूद प्रत्यक्षदर्शियो से भी घटना के बारे में जानकारी हासिल की। तुरंत बाद पुलिस अधीक्षक ने राजेन्द्र कालेज पहुंच कर घटना स्थल का मुआयना किया । उन्होंने कालेज में मौजूद कर्मचारियों व शिक्षकों से पूछ ताछ की । इसके तुरंत बाद पुलिस पदाधिकारियों को छापेमारी करने का निर्देश दिया गया । कई पुलिस टीम को अलग अलग स्थानों पर छापेमारी करने के लिए भेजा गया ।

क्या है घटना

राजेंद्र काॅलेज में स्नातक (प्रथम खंड) की परीक्षा फार्म गुरूवार को भरा जा रहा था । जीव विज्ञान के काउंटर पर लिपिक शिवविनय राय फार्म जमा ले रहे थे । उस समय फार्म भरने वालों की काफी भीड़ थी । इसी दौरान दिन के करीब 10 :45 बजे एक छात्र अंदर से प्रवेश कर गया और फार्म जमा करने के लिए दबाव बनाने लगा । लिपिक ने छात्र को लाइन में आने को कहा । इस पर छात्र गाली गलौज करने लगा । इस वजह से काउंटर पर काम रूक गया । अगल- बगल के अन्य कर्मचारी भी पहुंच गये । इस बीच छात्र को पकड़ने की कोशिश की गयी, तभी छात्र ने लिपिक के सीने में चाकू घोप दिया। चाकू का भय दिखाकर अन्य कर्मचारियों- छात्रों को भयभीत कर दिया और फरार हो गया । चाकू लगने से घायल लिपिक को संभालने में अन्य कर्मचारी जुट गये । आनन फानन में पुलिस को सूचना दी गयी । छात्रों में भगदड़ मच गयी । छात्र भी बिना फार्म भरे लौटने लगे। इस घटना के बाद कालेज के कर्मचारी व पदाधिकारी सदर अस्पताल की ओर रूख कर दिया । 

हत्या के बाद सदर अस्पताल में जुटी भीड

पेशेवर अपराधी की तरह मारा चाकू

लिपिक को चाकू जिस तरह मारा गया है, वह किसी पेशेवर अपराधी की तरह मारा गया है । एक ही चाकू मारा गया । वह भी सीने में लगा है । चाकू लगने से हार्ट पंक्चर हो गया और अस्पताल ले जाते समय मौत हो गयी। पुलिस का कहना है कि पेशेवर अपराधी ही इस तरह का हमला करते हैं । आमतौर पर नये लोग चाकू का प्रयोग करते हैं तो, उन्हें यह पता नही होता है कि कहां मारने से मौत होगी ।

लिपिक के पिता की भी हुयी थी हत्या

लिपिक शिवविनय राय के पिता रामजी राय की भी हत्या करीब 15 वर्ष पहले कर दी गयी थी । राजेन्द्र कालेज में रामजी राय डोमेस्ट्रेटर के पद पर कार्यरत थे । इनकी हत्या के बाद अनुकंपा के आधार पर शिवविनय राय की लिपिक के पद पर नौकरी हुयी थी ।

हत्या की घटना के बाद नहीं पहुंचे कुलपति

लिपिक की हत्या के बाद जयप्रकाश विश्व विद्यालय के कुलपति प्रो. हरिकेश सिंह ना तो अस्पताल पहुंचे और ना ही कालेज । इसको लेकर भी कालेज के कर्मचारियों व शिक्षकों में नाराजगी दिखी । कर्मचारियों का कहना था कि घटना की जानकारी कुलपति को दे दी गयी लेकिन घटना की जानकारी होने के बाद कुलपति ने अपना मोबाइल स्वीच ऑफ कर लिया । हालांकि अस्पताल में विश्वविद्यालय के कई अन्य पदाधिकारी पहुंचे थे । 

क्या कहते हैं अधिकारी

लिपिक की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है और पुलिस इसकी जांच कर रही है । इस घटना को अंजाम देने वालों को गिरफ्तार करने के लिए संभावित ठिकानों पर पुलिस छापेमारी कर रही है ।

हरकिशोर राय 
पुलिस अधीक्षक 
सारण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Close