सीएस ने नगरा PHC का किया औचक निरीक्षण, अनुपस्थित एक दर्जन चिकित्सा कर्मियों के वेतन पर रोक

Spread the love

छपरा । सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने जिले के नगरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का सोमवार की रात को औचक निरीक्षण किया। इस दौरान करीब एक दर्जन चिकित्साकर्मियों को अनुपस्थित पाया गया, जिनसे 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण पूछे जाने का आदेश दिया गया है । सिविल सर्जन डा माधवेश्वर झा ने अनुपस्थित पाए गए चिकित्साकर्मियों के वेतन भुगतान पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है। सिविल सर्जन ने बताया कि निरीक्षण के दौरान नगरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में घोर अव्यवस्था पाई गई है ।

इस मामले को काफी गंभीरता से लिया गया है । साफ सफाई की स्थिति ठीक नहीं थी । चादर, बेडशीट, पर्दा गंदा पाया गया। खिड़की के शीशे टूटे हुए पाए गए। एंबुलेंस में भी काफी कमियां पाई गई। एंबुलेंस में एक्सपायरी दवा भी मिली है। आउटसोर्सिंग एजेंसी के कामकाज पर सिविल सर्जन असंतोष व्यक्त किया है और स्पष्टीकरण पूछे जाने का आदेश दिया है।

निरीक्षण के दौरान नगरा के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी तथा एक अन्य चिकित्सक को छोड़कर अन्य सभी चिकित्सक तथा कर्मचारी गायब पाए गए। निरीक्षण में पाया गया कि ऑक्सीजन के सिलेंडर में मीटर काम नहीं कर रहा था । प्रसव कक्ष में भी घोर अव्यवस्था की स्थिति बनी हुई थी ऑपरेशन थिएटर भी अव्यवस्थित पाया गया। इस दौरान डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, डीएमएंडई भानू शर्मा भी मौजूद थे।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!