GRP पुलिस को बड़ी कामयाबी, इंटरसिटी एक्सप्रेस में लूटपाट करने वाले दोनों अपराधी को दबोचा

Spread the love

Chhapra Desk: पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा-बलिया रेलखंड पर छपरा जंकशन व गौतम स्थान स्टेशन के बीच डाउन इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन में लूट-पाट के दौरान स्वास्थ्य कर्मचारी को चाकू मारने वाले दोनों अपराधियों को राजकीय रेलवे पुलिस ने गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण कामयाबी हासिल की है और दोनों अपराधियों के पास से लूटी गयी 20 हजार रुपये, सोने की चेन व अन्य कागजात बरामद किया है । इस आशय की जानकारी रेलवे पुलिस अधीक्षक संजय कुमार सिंह ने छपरा रेल थाना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सोमवार को दी । उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने मऊ जिले के फातिमा हास्पिटल में कार्यरत चिकित्सा कर्मचारी पवन कुमार रंजन को चाकू मारकर घायल कर दिया । अपराधियों ने उनसे लूट पाट भी किया । घटना छपरा जंक्शन के आउटर सिगनल के पास हुयी । उस समय ट्रेन छपरा जंक्शन पर प्लेटफार्म खाली नहीं रहने के कारण खड़ी थी । ट्रेन की जिस कोच में लूट पाट की गयी, उसमें पवन कुमार रंजन अकेले ही थे । उन्होंने बताया कि लूट पाट करने के बाद ट्रेन से भाग रहे दो में से एक अपराधी को 50 नंबर ढाला के पास पहले से तैनात जीआरपी के जवानों ने पकड़ लिया और थानाध्यक्ष को घटना की सूचना दी । इस बीच स्वास्थ्य कर्मचारी को चाकू मारकर लूट पाट की सूचना मिली । इस आधार पर रेल एसपी ने रेल एसडीपीओ मो तनवीर के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया । गठित टीम ने गिरफ्तार अपराधी अली हसन के पास से चोरी की मोबाइल तथा ब्लेड बरामद किया गया । पूछ ताछ के क्रम में अली हसन ने फरार अपराधी का नाम शमशेर खां बताया । शमशेर खां और अली हसन भगवान बाजार थाना क्षेत्र के राजेन्द्र स्टेडियम कुष्ठ बस्ती के रहने वाले हैं । उन्होंने बताया कि टीम में थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह, हवलदार उपेंद्र सिंह, विकास ओझा, सिपाही कन्हैया पाठक अजय कुमार सिंह, रेखा कुमारी आदि शामिल थे ।
उन्होंने बताया कि घटना शनिवार की रात एक बजे को हुई । घायल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने घायल कर्मचारी को पीएमसीएच रेफर कर दिया गया. यात्री को पेट में चाकू से गहरा जख्म लगा है. घायल कर्मचारी पवन कुमार रंजन की पत्नी दीपिका कुमारी भी छपरा सदर अस्पताल में जीएनएम के पद पर कार्यरत है. वह रसरा से छपरा लौट रहा था. इसी दौरान ट्रेन को छपरा जंकशन व गौतम स्थान के बीच आउटर सिंग्नल पर प्लेटफार्म खाली नहीं रहने के कारण रोक दिया गया. अपराधियों ने अकेले होने का लाभ उठाकर लूट पाट की घटना को अंजाम दिया. उन्होंने बताया कि डाउन इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन वाराणसी सिटी से छपरा जंकशन के बीच चलती है. उस ट्रेन के छपरा जंकशन पर पहुंचने का समय रात में करीब 9 बजे है. लेकिन ट्रेन करीब चार घंटे विलंब से पहुंची थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!