बिहार में उपवास के दौरान केंद्रीय मंत्रियों के बयान से गरमायी सियासत

Spread the love

Patna Desk: केंद्रीय सियासत में विपक्ष की भूमिका में बैठा कांग्रेस और उसके नेता भाजपा की ओर आयोजित एक दिन के उपवास को लेकर बिहार में राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गयी है. एक तरफ कांग्रेस के नेता इस अनशन को नौटंकी करार दे रहे हैं. वहीं दूसरी ओर बिहार में मुख्य विपक्षी दल राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने भी भाजपा पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं का यह उपवास नौटंकी है. देश की संसद को ठप कराने की परंपरा भाजपा ने ही शुरू की थी. लिहाजा, भाजपा को पहले देश से माफी मांग कर अपने किये का प्रायश्चित करना चाहिए. 

जदयू ने इस कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि भाजपा ठीक कर रही है. वहीं राजद के तेजस्वी यादव ने इस उपवास को नौटंकी करार दिया. जबकि कांग्रेस के प्रभारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि यह उपवास नहीं उपहास का अनशन है. सदानंद सिंह ने कहा कि यह लोग जनता को बहुत भरमा चुके हैं. जनता सबकुछ समझती है और पब्लिक सबकुछ जानती है. जदयू के वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि उपवास परिवर्तन के लिए होता है. भाव पैदा करना चाहता है. ऐसी चीजें सामने नहीं आये. बीजेपी के लोग कर रहे हैं, तो यह ठीक है. 

उधर, उपवास में शामिल हुए केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने कहा है कांग्रेस के लोगों ने छोले भटूरे खाकर उपवास कर राजनीति का उपहास किया है. हमलोग कांग्रेस के उपवास के जवाब में अनशन नहीं कर रहे हैं. कांग्रेस के लोगों ने बेवजह सदन में हंगामा कर लोकतंत्र की हत्या की है और हमलोग उपवास के माध्यम के विपक्ष की मंशा को उजागर करना चाहते हैं. गिरिराज सिंह ने इस दौरान तेजस्वी यादव पर भी हमला बोला और कहा कि लालू परिवार के लोग सीबीआई की कानूनी कार्रवाई की आड़ में लोगों से सहानुभूति लेना चाहते हैं. गिरिराज सिंह ने एक क्षेत्रीय चैनल से बातचीत में कहा कि  तेजस्वी यादव से सीबीआई की  पूछताछ भी एक रूटीन मामला है.

उपवास में शामिल होने पहुंचे और पालीगंज में अनशन पर बैठे केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव ने कहा है कि मैं कांग्रेस पार्टी से यह जानना चाहता हूं कि सदन के कामकाज को बाधित करना कहां कि नैतिकता है और आजादी के बाद देश की यह पहली घटना है कि सदन को बेवजह चलने नहीं दिया गया है. रामकृपाल ने कहा कि पूरा देश नरेंद्र मोदी के समर्थन में है और यह बात कांग्रेस के लोगों को पच नहीं रही है. वहीं बिहार की राजधानी पटना में अनशन पर बैठे नेताओं ने कहा कि पूरे देश के लोगों की आशा पर पानी फेरने का काम कांग्रेस ने किया है. सदन को नहीं चलने देने से देश को नुकसान हुआ है और यह कांग्रेस आम लोगों के हित की बात करती है. पार्टी के लोग उपवास और अनशन के नाम पर छोले भटूरे खाते हैं और दिखाते हैं कि उन्होंने उपवास किया है.

वहीं पटना में अनशन पर बैठे केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केंद्र सरकार टीडीपी की मांग पर विशेष राज्य का दर्जा तो नहीं लेकिन उस राज्य को हर तरीके से मदद करने की बात सोचेगी. उन्होंने कहा कि विशेष राज्य के दर्जे वाले स्टेट को जो सुविधा मिलती है, उसके हिसाब से सुविधा दी जायेगी. उन्होंने बिहार को केंद्र सरकार द्वारा भरपूर मदद मिलने की बात कही. उन्होंने कहा कि संसद चर्चा के लिये है लेकिन हाल में समाप्त हुए बजट सत्र के दूसरा भाग एक महीना बाधित हुआ जो कि दुर्भाग्य है. इस सत्र में सदन में कई बिल थे जिन पर चर्चा होनी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Close
error: Content is protected !!