विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला डिप्टी सीएम ने किया उद्घाटन

इस समाचार को शेयर करें

सोनपुर। विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला का उद्घाटन रविवार को सूबे के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने किया. हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला में आने वाले श्रद्धालुओं एवं मेलार्थियो के लिए सजाये सवारे गये 32 दिवसीय मेले का विधिवत उद्घाटन पर्यटन विभाग के मुख्य पंडाल मे मौजूद हजारों लोगों एंव मंच पर मौजूद गण्यमान लोगों की मौजूदगी में हुई. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष 38 लाख 80 हजार लोग मेले में आये थे.257 विदेशी पर्यटक आये,11 लाख लोगों ने जलाभिषेक किया.ये मेला पशु मेला के रूप मे जाना जाता है.पशुओं के खरीद बिक्री पर रोक नहीं है.लेकिन कुछ कानून हैं, कानून का उल्लंघन करने वाले जेल जायेगे । आप लोगों का सुझाव आयेंगे तो उस पर विचार किया जायेगा. उन्होंने कहा कि लोग कहते हैं बिहार में कुछ नहीं है, हमारे पास जो हैं, वो किसी के पास नही है.हमारे पास बौद्ध जैन गुरूगोविद सिंह हैं,वैशाली मे 72 एकड़ में बुद्ध समयक दर्शन संग्रहालय स्थापित किए जा रहे हैं.प्रधान मंत्री ने 600 करोड़ रुपए पर्यटन के लिए दिया.विहार में गठबंधन की सरकार आने के बाद आरा छपरा,जे पी सेतु पुल हमारी सरकार की देन हैं और 6 से ज्यादा पर कार्य चालू है.बिहार के गांव गांव बिजली पहुंचाया है.अब किसान डिजल से नही बिजली के माध्यम से खेती करेंगे.डॉल्फिन देखने के लिए दुनिया भर में लोग जाना चाहतें हैं.पर्यटन विभाग से बात कर बोट की ब्यवस्था की जायेगी ताकि लोग डालफिन नदी में देख सके.सोनपुर मेले के गौरव को बनायें रखनें की जरूरत है.विहार हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले के मान सम्मान मे कोई कमी नहीं आने देंगे.सुप्रीम कोर्ट को बधाई देने का काम करते हैं.वही अन्य वक्ताओ ने कहा कि मेले में छोटी-बड़ी लगभग एक हजार दुकानें लग चुकी हैं.मेले में अभी तक एक दर्जन से अधिक सरकारी व गैर सरकारी प्रतिष्ठानों की प्रदर्शनियां लग गयी हैं.जबकि तीन दर्जन से अधिक सरकारी एवं गैर-सरकारी प्रदर्शनियों का निर्माण कार्य जारी है.पर्यटन विभाग व ग्रामश्री मंडप समेत एक दर्जन प्रदर्शनियां ही बन कर तैैयार हैं.पशु बाजारों में घोड़ा बाजार में सबसे ज्यादा रौनक हैं.अबतक दो हाथी आए हैं.कई हाथी आने की सम्भावना है.यहां आने वाले लाखों श्रद्धालुओं की सुविधा व सुरक्षा की विशेष व्यवस्था की गई है.साफ-सफाई, पर्याप्त रोशनी के साथ शुद्ध पेयजल की भी व्यवस्था की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!