सदर अस्पताल में पारा मेडिकल स्टाफ को चाकू मारकर किया घायल, पीएमसीएच रेफर

इस समाचार को शेयर करें

छपरा : सदर अस्पताल में एंबुलेंस के पारा मेडिकल स्टाफ को सोमवार की रात को करीब 1:30 बजे चाकू मार कर घायल कर दिया गया। घायल को सदर अस्पताल के आपात कालीन कक्ष में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीच पटना रेफर कर दिया गया। ड्यूटी पर तैनात डा राकेश कुमार ने बताया कि घायल को पीठ में तीन जगह चाकू लगा था और सीने के बगल में भी चाकू घोंपा गया था, जिसके कारण उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई थी। बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर किया गया है। घायल एंबुलेंस पारा मेडिकल स्टाफ शहर के भगवान बाजार थाना क्षेत्र के नवीगंज निवासी मो मोब्स्सीर हुसैन हैं और वह एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के नेता भी है। घटना को अंजाम देकर अपराधी फरार हो गये। पुलिस इसकी जांच कर रही है।

समाचार लिखे जाने तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सका है और घटना के कारणों का भी पता नहीं चला है। घायल का इलाज पीएमसीएच पटना में चल रहा है। सदर अस्पताल परिसर में एंबुलेंस के कर्मचारी को चाकू मारने की घटना के कारण चिकित्सा कर्मियों में भय व दहशत का माहौल बना हुआ है । सदर अस्पताल में हमेशा दलालों तथा अवैध एंबुलेंस चालकों का जमावड़ा लगा रहता है, जिसके कारण आए दिन तोड़ फोड़ व हंगामा और चिकित्सा कर्मियों के साथ मारपीट की घटनाएं होती रहती है। एक माह पहले भी असामाजिक तत्वों के द्वारा सदर अस्पताल के आपात कालीन कक्ष में हंगामा किया गया था। खासकर अवैध एंबुलेंस चालकों तथा दलालों के द्वारा मरीजों को आपातकालीन कक्ष में हंगामा तथा उत्पात मरीजों के परिजनों को उकसा कर कराया जाता है। इसको लेकर कई सामाजिक संगठनों के द्वारा डीएम तथा आयुक्त समेत अन्य वरीय अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई है। बावजूद इसके दलालों पर काबू पाने में जिला प्रशासन पूरी तरह नाकाम बनी हुई है। अहम बात यह है कि बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय इस जिले के प्रभारी मंत्री हैं । बावजूद इसके प्रमंडलीय मुख्यालय के सदर अस्पताल की व्यवस्था असुरक्षित है। यही कारण है कि मारपीट के दौरान घायल जब इलाज के लिए सदर अस्पताल में पहुंचते हैं तो, अस्पताल में आपस में भिङ जाते हैं। एक पखवाड़ा पहले भगवान बाजार थाना क्षेत्र के शिवबाजार तथा अड्डा नंबर चार के पास के रहने वाले दो पक्षों के बीच सदर अस्पताल के ड्रेसिंग रूम में मारपीट हो गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!