कार्यपालक सहायक संघ की बैठक में कमिटी का हुआ विस्तार, मांगो को लेकर हाईकार्ट जाने का लिया निर्णय

Spread the love

छपरा। बिहार राज्य कार्यपाल सहायक सेवा संघ के जिला इकाई की बैठक शहर के शिशु पार्क के पास स्थित जिला बंदोबस्त कार्यालय परिसर में जिलाध्यक्ष निलेश कुमार के अध्यक्षता में बैठक की गई। जिसमें  संघ को सशक्त एवं धारदार बनाने के उद्देश्य से कमिटी का विस्तार किया गया। जिसमें सभी कार्यपालक सहायकों ने पप्पु पासवान को जिला महासचिव, नागमणि प्रसाद को जिला सचिव, निलेश कुमार को जिलाध्यक्ष, निर्भय कुमार निर्मल, राजन शर्मा, विशाल कुमार को जिला उपाध्यक्ष, अजय राज को संयुक्त सचिव सह मीडिया प्रभारी,  अश्विनी कुमार भारती को सोशल मीडिया प्रभारी, प्रेम कुमार, विशाल कुमार गुप्ता, मुकेश कुमार, सुशील कुमार शर्मा को संयोजक सह सदस्य के रूप में सर्वसम्मति से चुनाव किया गया। साथ ही सभी नवनिर्वाचत संघ के कार्यपालक सहायको का जोरशोर से स्वागत किया गया। वहीं बैठक के दौरान लोकसभा आम निर्वाचन 2019 में बेहतर कार्य करने वाले कार्यपालक सहायकों को जिला प्रशासन द्वारा प्रोत्साहित नहीं करने पर निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। वक्ताओं ने कहा कि कार्यपालक सहायक अपने कार्य के प्रति सच्ची निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य करते है। फिर जिला प्रशासन द्वारा सौतेलापन व्यवहार करते हुए कार्यपालक सहायक के भूमिका को दरकिनार कर प्रशस्ति पत्र वितरण किया गया है। कार्यपालक सहायकों ने एक स्वर में वेतन विसंगति को दूर करने को लेकर हाईकोर्ट में वाद दायर करने का निर्णय लिया है। कहा कि बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाईटी ने मानदेय बढ़ोत्तरी एवं ईपीएफ लागू करने के लिए जिलाधिकारी को पत्र भेजकर निर्देशित किया था। लेकिन जिला प्रशासन कार्यपालक सहायकों के हितकारी निर्देश को लागू करने में अनावश्यक विलंब कर रही है। साथ ही कर्मियों द्वारा बीपीएसएम से आये पत्रों का दबा दिया जाता है। ताकि कार्यपालक सहायकों को शोषण, उत्पीड़न होता रहे। उन्होंने कहा कि आगामी एक अगस्त तक जिला प्रशासन सभी सुविधाओं को लागू नहीं किया गया तो संघ चरणबद्ध आंदोलन करेगी। जिसकी पूर्ण जवाबदेही जिला प्रशासन की होगी।  वहीं संविदा नियमावली एवं हाईकोर्ट के आदेश के विपरीत कार्यपालक सहायकों का स्थानांतरण किया गया है। जिसे रद्द करने की मांग किया है। वहीं महिला उत्पीड़न अधिनियम के तहत सभी कार्यालयों में पदस्थापित महिला कार्यपालक सहायकों की सुरक्षा को देखते हुए कमिटी गठन करने एवं महिला कार्यपालक सहायकों को गृह प्रखंड के निकटवर्ती पंचायत एवं प्रखंडों में पदस्थापित करने का मांग किया है। वहीं नियोजनमुक्त कार्यपालक सहायको को पुन: नियोजित करने को लेकर अनावश्यक हाईकोर्ट के आदेश की प्रत्याशा में विलंब किया जा रहा है। जबकि हाईकोर्ट इस संबंध में कोई भी आदेश नहीं दिया है। ऐसे में संघ ने नियाेजन मुक्त सभी कार्यपालक सहायको को यथाशीर्घ पुन: नियाेजित करने की मांग किया है। इस मौके पर निर्मला कुमारी, चांदनी कुमारी, विभा कुमारी, आशीष कौशिक, सर्वजीत कुमार, अमर कबीर, संदीप कुमार, उपेन्द्र कुमार, तिलेश्वर महतो, जगमोहन कुमार, अजय कुमार, अभिमन्यु कुमार राम, शशि पर्वत, विश्वजीत कुमार सहित सैकड़ों कार्यपालक सहायक उपस्थित थे।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!