छपरा जंक्शन पर नल से गिर रहा है गर्म पानी, पानी भरने के लिए आपस में भिड़े यात्री

Spread the love

छपरा । पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन पर पेयजल सप्लाई के लिए लगे नल से शीतल जल के बदले गरम पानी गिरने के कारण यात्रियों में काफी आक्रोश है। एक- दो नलों से ठंडा पानी गिर रहा है, जहां पानी भरने के लिए यात्रियों में मारा-मारी की स्थिति बनी हुई है। वाराणसी मंडल के ए वन क्लास के स्टेशनों में शुमार छपरा जंक्शन पर यात्री सुविधाओं के घोर अभाव के कारण यात्रियों के द्वारा हंगामा करना आम बात है। भीषण गर्मी के इस मौसम में भी स्टेशन पर बनाए गए चिल्ड वाटर बूथ से गरम पानी गिर रहा है। बुधवार को दोपहर के समय प्लेटफार्म संख्या एक पर स्थित चिल्ड वाटर बूथ पानी भरने के लिए यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मची रही ।अत्यधिक भीड़ होने के कारण यात्री कई बार आपस में भिड़ गए और कहा सुनी होते-होते मामला हाथा-पाई तक जा पहुंची, हालांकि अन्य यात्रियों के द्वारा हस्तक्षेप कर मामले को शांत कराया गया। हावड़ा से काठगोदाम जाने वाली बाघ एक्सप्रेस ट्रेन के आगमन के समय दिन के करीब 1:30 बजे प्लेटफॉर्म पर काफी भीड़-भाड़ थी और पानी भरने के लिए वाटर बूथ पर भी काफी भीड़ लगी हुई थी। इसी बीच जिस वाटर बूथ से ठंडा पानी गिर रहा था। वहां पर कुछ ज्यादा ही भीड़ थी और पहले पानी लेने के चक्कर में कोई यात्री एक दूसरे से आपस में भिड़ गए यात्रियों का कहना था कि प्लेटफार्म संख्या एक पर लगे अधिकांश वाटर बूथ से गरम पानी गिर रहा है। इसके प्रति रेलवे प्रशासन पूरी तरह लापरवाह बना हुआ है। यात्रियों का कहना है कि हाल ही में रेल महाप्रबंधक तथा मंडल रेल प्रबंधक छपरा जंक्शन का निरीक्षण किया था और यात्रियों को पेयजल की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सभी लोगों को ठीक कराने का निर्देश दिया था। वाटर बूथ से ठंडा पानी नहीं गिरने के कारण यात्रियों को बोतल बंद पानी खरीद कर प्यास बुझाने को मजबूर होना पड़ रहा है। गरीब व कमजोर वर्ग के यात्रियों के लिए पानी खरीदकर पीना मुश्किल है। साधन संपन्न यात्री तो बोतल बंद पानी खरीद ले रहे हैं, लेकिन गरीब व कमजोर वर्ग के यात्री रेलवे के वाटर बूथ पर ही निर्भर हैं, जहां उन्हें ठंडा पानी नसीब नहीं हो रहा है। गर्म पानी से ही उन्हें काम चलाना पड़ रहा है। इस संबंध में पूछे जाने पर स्टेशन डायरेक्टर अरविंद कुमार पांडेय ने बताया कि क्षमता से अधिक पानी का दोहन किए जाने के कारण वाटर बूथ से गरम पानी निकल रहा है। गर्मी का मौसम होने के कारण पानी का दोहन अधिक हो रहा है। वाटर बूथों की क्षमता सीमित है । इस वजह से यह स्थिति बनी हुई है।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!