सभापति ने विधानसभा में तरैया विधायक पर हुए जानलेवा हमला का मामला उठाया

Spread the love
  • सभापति समेत 25 विधायकों ने ध्यानाकर्षण के दौरान उठाया मामला
  • अपराधियों की गिरफ्तारी का मामला सदन में रखा
  • अपराधियों के संरक्षण देने वाले पुलिस पदाधिकारियों पर कारवाई की मांग

छपरा । बिहार विधान सभा निवेदन समिति के सभापति भाई वीरेन्द्र ने बिहार विधानसभा के ध्यानाकर्षण सत्र के दौरान तरैया विधायक मुंद्रिका प्रसाद राय पर अपराधियों द्वारा जानलेवा हमला करने का मामला मंगलवार को उठाया। बिहार विधानसभा की प्रक्रिया तथा कार्य संचालन नियमावली के नियम 104 के तहत ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के दौरान सभापति भाई वीरेन्द्र ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के दौरान सदन से मांग किया है। इस प्रस्ताव पर भाई वीरेन्द्र समेत 25 विधायकों ने हस्ताक्षर किया है। भाई वीरेन्द्र द्वारा उठाये गये मामले में कहा गया है कि सारण जिलान्तर्गत इसुआपुर प्रखंड स्थित सतासी गांव में 11 मई 2019 को रात्रि आठ बजे तरैया विधायक मुंद्रिका प्रसाद राय पर अपराधियों द्वारा जानलेवा हमला कर घंटों बंदी बना लिया गया था। घटना स्थल पर पुलिस अधीक्षक ने पहूंच कर विधायक को मुक्त कराया गया। घटना के उपरांत इसुआपुर थाना में कांड सं. 84/19 दर्ज करने के फलस्वरूप 25 जून 2019 को पुलिस अधीक्षक सारण द्वारा 11 अभियुक्तों के विरुद्ध आरोप सत्य पाया गया। वहीं कांड सं. 83/19 को असत्य पाया गया। नामजद आरोपी धीरज सिंह पर विभिन्न थानों में दर्जनों अपराधिक मामले दर्ज है। ऐसे व्यक्तियों के लाइसेंसी हथियार के लाइसेंस रद्द करने की मांग की गयी। नामजद अभियुक्त घायल प्रमोद कुमार चिकित्सा के क्रम में पुलिस हिरासत से फरार हो गया। पुलिस हिरासत से फरार प्रमोद कुमार पर पटना शास्त्री नगर थाने में फरारी का दूसरा मामला दर्ज है। सभी आरोपितों का इसुआपुर थानाध्यक्ष व पुलिस उपाधीक्षक मढ़ौरा के संरक्षण होने से अभी तक गिरफ्तारी नही किया जा सका है। सभापति व विधायकों ने ध्यानाकर्षण सत्र के दौरान घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को गिरफ्तार करने के साथ ही अपराधियों को संरक्षण देने वाले पुलिस अधिकारियों पर कारवाई करने सदन के माध्यम से सरकार से किया गया है। मांग करने वालों में निवेदन समिति के सभापति भाई वीरेन्द्र, विधायक आलोक कुमार मेहता, शिवचन्द्र राम, सुनील कुमार कुशवाहा, रामविचार राय, लालबाबू राय, नीरज कुमार यादव, सुदय यादव, राहुल तिवारी, राजेश कुमार, वर्षा रानी, रेखा देवी, शमीम अहमद, म. नवाज आलम, रामविलास पासवान, पहलाद यादव, अनीता देवी, म. नेमतुल्लाह, फैयाज अहमद, समता देवी समेत 25 विधायकों ने प्रस्ताव पर हस्ताक्षर करते हुए अपराधिक प्रवृति के व्यक्ति की हथियार के लाइसेंस रद्द करने तथा गिरफ्तारी व अपराधियों को संरक्षण देने वाले पुलिस पदाधिकारियों पर कारवाई की मांग प्रस्ताव के माध्यम से किया गया है।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!