परिवार विकास पखवाड़ा का बेहतर ढंग से करें कार्यान्वयन: सिविल सर्जन

Spread the love

 विटामिन ए कार्यक्रम, एनीमिया मुक्त भारत अभियान की समीक्षा

छपरा : परिवार विकास पखवाड़ा का बेहतर ढंग से कार्यान्वयन सुनिश्चित करें । जिला मुख्यालय से लेकर सभी प्रखंडों में प्रभात फेरी निकालें और परिवार नियोजन मेला का आयोजन करें । उक्त बातें सिविल सर्जन डा माधवेश्वर झा ने समाहरणालय सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में राष्ट्रीय जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाङा की तैयारियों की समीक्षा करते हुए बुधवार को कही । उन्होंने पखवाड़े की कार्य योजना पर विस्तार से चर्चा की और इसके कुशल क्रियान्वयन के लिए इस दौरान होने वाली विभिन्न गतिविधियों की जानकारी संबंधित अधिकारियों को दी। सिविल सर्जन डॉ. झा ने बताया कि परिवार नियोजन के की आवश्यकता एवं इससे होने वाली दूरगामी लाभ के विषय में जिले में 11 से 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा चलाया जाएगा । इसमें जिला एवं प्रखंड स्तर पर परिवार कल्याण मेले का भी आयोजना होगा। जिसमें आम लोगों को परिवार नियोजन के उपायों के साथ इसके विषय में विस्तार से जानकारी दी जाएगी । उन्होंने कहा कि सामुदायिक स्तर पर अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने के लिए सारथी जागरूकता रथ भी चलाया जाएगा। यह रथ जिले के गांव – गांव घूमकर लोगों को परिवार नियोजन के विषय में जागरूक करने के साथ अस्थायी साधन जैसे कंडोम एवं गर्भ निरोधक गोली का निःशुल्क वितरण करेगी । साथ ही प्रसवोपरान्त कॉपर-टी, महिला नसबंदी एवं पुरुष नसबंदी के लिए इच्छुक दंपतियों का पंजीयन भी किया जाएगा।
इस पखवाड़े के दौरान अधिक से अधिक लोगों को परिवार नियोजन के साधन इस्तेमाल करने के लिए उत्प्रेरित करने का लक्ष्य होगा। इसमें आशा, एएनएम, विकास मित्र एवं जीविका कार्यकर्ता भी सहयोग करेंगे। साथ ही इन्हें महिला नसबंदी के लिए उत्प्रेरित करने के लिए प्रति महिला 300 रूपये एवं पुरुष नसबंदी के लिए प्रति पुरुष 400 रूपये की प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी। पखवाड़े के दौरान परिवार विकास मेला का जिला एवं प्रखंड स्तर पर आयोजन होगा, जिसमें परिवार नियोजन के साधनों की जानकारी दी जाएगी एवं परिवार नियोजन के स्थायी साधनों को अपनाने वाले इच्छुक दंपतियों को निःशुल्क सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। उन्होंने विटामिन ए कार्यक्रम, एनीमिया मुक्त भारत अभियान, आयुष्मान भारत योजना की भी समीक्षा की ।
इस मौके पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. विरेंद्र चौधरी, डीपीसी रमेशचंद्र प्रसाद, भानू शर्मा,अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सरोज सिंह, डीसीएम ब्रजेन्द्र कुमार सिंह, डब्लूएचओ के एसएमओ डॉ. रंजितेश कुमार सिंह, आरती त्रिपाठी तथा सभी बीएचएम उपस्थित थे।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!