छपरा में आशा कार्यकर्ताओं का आंदोलन हुआ उग्र, सङक जाम कर किया प्रदर्शन

Spread the love

छपरा । आशा संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर जिले में चल रहे आशा कार्यकर्ताओं के आंदोलन ने शुक्रवार को उग्र रूप ले लिया । हङताली आशा कार्यकर्ता सङक पर उतर गयी और शहर के दारोगा राय चौक के पास सङक जाम कर यातायात बाधित कर दिया । करीब एक घंटे तक सङक जाम रहा । सङक जाम हटाने के लिए पुलिसकर्मियों को बल प्रयोग करना पङा । आशा कार्यकर्ताओं पर डंडे चलाये जाने से वह पुलिसकर्मियों से उलझ गयी । सङक जाम हटाने और आशा कार्यकर्ताओं को शांत कराने के लिए पुलिसकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी । आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा सङक जाम करने की सूचना सबसे पहले भगवान बाजार थाना की पुलिस पहुंची, लेकिन आशा कार्यकर्ताओं ने जाम नहीं हटाया और पुलिस लाचार बनी रही । इसकी सूचना पर पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने नगर थानाध्यक्ष सह पुलिस निरीक्षक जयप्रकाश पंडित, बज्र वाहन, पुलिस केन्द्र से अतिरिक्त पुलिस बल को भेजा । काफी संख्या में महिला पुलिसकर्मी भी पहुंची । पुलिस ने सङक जाम हटाने का आग्रह किया लेकिन आशा कार्यकर्ता टस से मस नहीं हुई । इस पर पुलिस ने बल प्रयोग करना शुरू किया । इसके बाद फिर आशा कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों में नोक झोंक भी हुई । नगर थानाध्यक्ष और भगवान बाजार थानाध्यक्ष के समझाने पर आशा कार्यकर्ताओं ने सङक जाम हटाया । इस दौरान करीब एक घंटे तक यातायात बाधित रहा ।

शहर में लगा जाम

आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा सङक जाम करने के कारण शहर की सङको पर जाम लग गया । डाक बंगला रोड, भगवान बाजार जाने वाली सङक, बस स्टैंड जाने वाली सङक पर वाहनों की लंबी कतार लग गयी । जाम में छोटे बङे सैकङो वाहन फंसे रहे ।सङक जाम पुलिस के द्वारा हटाने के बाद यातायात बहाल हुआ ।

टीकाकरण को किया बाधित

हङताली आशा कार्यकर्ताओं ने सबसे पहले सुबह करीब दस बजे सदर अस्पताल में नियमित टीकाकरण का कार्य ठप कर दिया । इस वजह से दूर दराज से नवजात शिशुओं को टीकाकरण कराने के लिए लेकर आयी महिलाओं को बैरंग वापस लौटना पड़ा ।सैकड़ों महिला अपने बच्चों का टीकाकरण नही करा सकी और उन्हें वापस लौटना पड़ा । हङताली आशा कार्यकर्ताओं ने ज़बरन टीकाकरण कक्ष में ताला बंद कर दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ।

सिविल सर्जन कार्यालय का किया घेराव

सङक जाम कर वापस लौटने के बाद आशा कार्यकर्ताओं ने सिविल सर्जन कार्यालय का घेराव किया और अपनी 15 सूत्री मांगों के समर्थन में नारेबाजी की । हङताली आशा कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों के समर्थन में सिविल सर्जन को एक ज्ञापन भी सौंपा ।

Ganpat Aryan

Ganpat Aryan

Multimedia Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!